MP में थाना प्रभारी और उपनिरीक्षक 13 हजार की रिश्वत लेते ट्रैप, SP ने किया निलंबित

रीवा एसपी नवनीत भसीन ने दोनों पुलिसकर्मियो को निलंबित कर दिया है।

रिश्वत

रीवा, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के रीवा जिले (Rewa District) में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है। यहां रीवा लोकायुक्त पुलिस (Rewa Lokayukt Police) ने गोविंदगढ़ थाना प्रभारी एसएस बघेल और सब इंस्पेक्टर परिहार  को 13,000 की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि थाना प्रभारी और सब इंस्पेक्टर ने बर्थडे पार्टी में चली गोली मामले में आरोपी प्रिंस मिश्रा को बचाने के लिए 13000 की रिश्वत मांगी थी। यह कार्रवाई बुधवार की सुबह गोविंदगढ़ के विश्रामगृह में दबिश देकर लोकायुक्त टीम के द्वारा की गई है।

यह भी पढ़े.. मप्र पंचायत चुनावों को लेकर निर्देश जारी, 12 नवम्बर को वीसी, तारीखों का ऐलान जल्द!

लोकायुक्त की इस कार्रवाई के बाद थाने में हड़कंप मच गया है। वही मामले को गंभीरता से लेते हुए रीवा एसपी नवनीत भसीन (Rewa SP) ने दोनों पुलिसकर्मियो  को निलंबित (Suspended) कर दिया है। बुधवार की सुबह जैसे ही थाना परिसर में गोविंदगढ़ थाना प्रभारी एसएस बघेल ने 10 हजार व उपनिरीक्षक देशराज सिंह परिहार ने 3 हजार की रकम ली। वैसे ही लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथ दबोच लिया।

यह भी पढ़े.. फिर चर्चाओं में साध्वी प्रज्ञा का बयान, अजान को लेकर कही बड़ी बात

खास बात ये है कि ये कार्रवाई रीवा लोकायुक्त के नवागत एसपी गोपाल सिंह धाकड़ और उनकी टीम ने की है। लोकायुक्त की 15 सदस्यीय टीम ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (Prevention of Corruption Act) के तहत मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरु कर दी है।इसके बाद एसपी ने दोनों को तत्काल निलंबित करने के निर्देश जारी किए हैं।