नक्सली हमले में रीवा का जवान शहीद, होली पर किया था घर आने का वादा

छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (dantewada) से बड़ी ही दुःखद घटना सामने आई है। खबर है कि नक्सलियों (naxalites द्वारा किये गए हमले में मध्यप्रदेश (madhya pradesh) का एक जवान (soldier) शहीद (martyr) हो गया है।

शहीद जवान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (dantewada) से बड़ी ही दुःखद घटना सामने आई है। खबर है कि नक्सलियों (naxalites द्वारा किये गए हमले में मध्यप्रदेश (madhya pradesh) का एक जवान (soldier) शहीद (martyr) हो गया है। शहीद जवान मुख्य तौर पर रीवा (rewa) के रहने वाला था। उनकी शहादत की खबर मिलते ही परिवार के साथ-साथ पूरे गांव में ही शोक की लहर दौड़ गयी। गांव में शहीद की याद में आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे।

शहीद लक्ष्मीकांत द्विवेदी रीवा जिले के त्योंथर तहसील के बरछा गांव के निवासी थे। वे छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स की 22वीं बटालियन के जवान थे। दंतेवाड़ा में नक्सली हमले के दौरान वे वीरगति को प्राप्त हो गए। उनके पार्थिव शरीर को हेलीकॉप्टर के ज़रिए रायपुर लाया जा चुका है। शुक्रवार यानी कि आज उनके पार्थिव शरीर को उनके गांव बरछा ले जाया जाएगा। वहीं पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें… MP News: दिन दहाड़े अपहरण की कोशिश, चंगुल से भागा मूकबधिर युवक, पुलिस तंत्र सक्रिय

शहीद लक्ष्मीकांत की शहादत के बाद पूरा परिवार शोक में डूबा हुआ है और सभी का रो-रो कर बुरा हाल है। लक्ष्मीकांत के परिवार में उनकी 2 बेटियां, उनकी पत्नी हैं। उनके पिताजी भी उनके साथ रहते थे। बड़ी बेटी का नाम रुचि है और वो सात साल की है वहीं छोटी बेटी महज़ 3 साल की है।शहीद लक्ष्मीकांत के पिता ने बताया की आखिरी बार बेटी से बात होने पर लक्ष्मीकांत ने होली पर घर आने का वादा किया था।