बेख़ौफ़ बदमाश :  पॉश एवं सुरक्षित कॉलोनी में दिनदहाड़े 12 लाख की चोरी

रतलाम, सुशील खरे। रतलाम शहर की की सबसे पॉश एवं सुरक्षित माने जाने वाली राजबाग कॉलोनी भी अब सुरक्षित नहीं है बुधवार को दोपहर 3 से 4 के बीच इस कॉलोनी के दो मकानों को चोरों ने अपना निशाना बनाया तथा 12 लाख से अधिक के आभूषण नगदी एवं कीमती सामान लेकर रफूचक्कर हो गए इसके पूर्व में भी इस कॉलोनी में 3 बार चोरी की घटना हो चुकी है लेकिन  चोर अभी तक पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

रतलाम जिले में पिछले कुछ माह में लगभग लाखों की चोरियां हो चुकी हैं जिनमे रिंगनोद थाना अंतर्गत ढोढर की, बिलपांक थाने के बिरमावल की और थाना स्टेशन रोड के पीछे न्यू रोड पर वकील के घर की चोरियां हैं, जिनका अभी तक कोई खुलासा नहीं हुआ  पर सैलाना थाना ने भाजपा नेत्री के घर हुई चोरी तत्काल मय मश्रुका के निकाल ली ऐसा क्यों? ये सवाल जनता के मन में है।

अब चोरों ने एक ही कॉलोनी के दो घरों को निशाना बनाकर पुलिस को खुली चुनौती दे दी। ये घटना रतलाम के थाना औद्योगिक क्षेत्र की है पहली घटना राज बाग कॉलोनी के मकान नंबर 84 में घटित हुई जहां पर डॉक्टर प्रीतम कटारा एवं उनकी पत्नी मंजू कटारा रहते हैं चोरों ने यहां पर मेन गेट का ताला तोड़कर प्रवेश किया उसके पश्चात फिर घर का दरवाजा तोड़ा एवं पहली एवं दूसरी  मंजिल पर पूरे सामान को अस्त-व्यस्त कर दिया।  चोरों ने यहां से सोने चांदी के कीमती आभूषण सहित चालीस हजार की नकदी एवं अन्य सामानों पर हाथ साफ किया जिसकी कीमत आठ लाख रुपयों के लगभग बताई जा रही है जिस समय घटना हुई परिवार के सदस्य एक गमी में शामिल होने के लिए घर से बाहर गए हुए थे वहीँ श्रीमती मंजू कटारा जो  पटवारी के पद पर पदस्थ हैं वह अपनी नौकरी पर गई हुई थी. इसी दौरान चोरों ने मकान को निशाना बनाया।

दूसरी वारदात राजबाग कॉलोनी के मकान नंबर 253 पर घटित हुई, जहां पर हरदीप मिनोचा का दो मंजिला मकान है प्रथम तल पर किराए से रवि कुमार रहते हैं, रवि कुमार अपनी पत्नी के आंख में कुछ परेशानी के कारण उन्हें डॉक्टर को दिखाने ले गए थे जब शाम को 7:45 बजे के करीब हुआ घर पर आए तो घर का ताला एवं दरवाजा टूटा हुआ मिला घर में प्रवेश करने पर पाया कि यहां से चोर सोने चांदी के आभूषण एवं चांदी के बर्तन सहित लगभग साढ़े चार लाख के कीमती सामान पर हाथ साफ कर गए।  घटना की सूचना पुलिस को देने के पश्चात लगभग आधे घंटे बाद पुलिस के 2 जवान मौके पर पहुंचे तब तक कटारा परिवार के लोग एवं आसपास के रहवासी घर के बाहर खड़े रहे।  उल्लेखनीय की घटनास्थल से संबंधित थाना औद्योगिक क्षेत्र मात्र एक से डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर है उसके पश्चात भी पुलिस को आने में इतना समय लग गया अरे वासियों का कहना है कि इस कॉलोनी में गश्त का अभाव है जिसके चलते पूर्व में तथा वर्तमान में चोरी की घटना हुई है तथा चोरों के हौसले बुलंद हैं।