डीजे बजाने को लेकर पुलिस और दुर्गा समिति सदस्यों के बीच झड़प, देर रात तक चला हंगामा

पुलिस ने मामला शांत करवाते हुए चल समारोह के लिये 2 डीजे बॉक्स की अनमति दी।

कटनी, अभिषेक दुबे। मध्य प्रदेश के कटनी जिले में दशहरा चल समारोह के दौरान डी.जे. को लेकर बड़ा बवाल हो गया। दरअसल यहां देर रात डीजे बजाने पर प्रतिबंध के बावजूद हैवी वोल्टेज और तेज ध्वनि वाला डीजे बजाया जा रहा था जिसपर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए हैवी डीजे को जब्त कर लिया। इससे गुस्साए दुर्गा कमेटी के सदस्यों ने भारी भीड़ के साथ सुभाष चौक पर दुर्गा प्रतिमाएं खड़ी कर धरना शुरु कर दिया। इस दौरान लोगों ने विरोध जताते हुए काफी हंगामा किया और डीजे वापस करने की मांग करते हुए पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

ये भी पढ़ें- कर्मचारियों को नवंबर में मिलेगी बड़ी खुशखबरी, सैलरी में आएगा 95 हजार तक उछाल

जानकारी के अनुसार कटनी में दशमी पर विसर्जन जुलूस के दौरान दुर्गा समिति के सदस्यों ने डीजे बजाना शुरू कर दिया। नियम के विरुद्ध देर रात तक तेज ध्वनि में डीजे चलाकर चल समारोह निकाला जा रहा था जिसपर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए डीजे बंद करवाया। इस दौरान समिति सदस्यों और पुलिस के बीच काफी झड़प हुई जिसके बाद पुलिस ने डीजे वाहन को रोक कर अपने कब्जे में लिया। पूरे विवाद के बाद समिति के सदस्यों में काफी रोश देखने को मिला। गुस्साए दुर्गा कमेटी के सदस्य माता की प्रतिमा सुभाष चौक पर रखकर देर रात हाई वोल्टेज ड्रामा करते हुए धरने पर बैठ गए और पुलिस के खिलाफ जमकर विरोध जताया और डीजे की मांग पर अड़ गए। पूरा हंगामा देर रात तक चलता रहा, वहीं मौके पर जिला प्रशासन के आला अधिकारी, एडीएम, एसडीएम और एएसपी समेत अन्य थानों के पुलिस बल मौके पर सुरक्षा व्यवस्था में डटे रहे।

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद आखिर में पुलिस ने मामला शांत करवाया और डीजे वाहन को वापस किया गया। मामले पर A.S.P. मनोज खेड़िया ने बताया कि कमेटी सदस्यों को दो बॉक्स के साथ डीजे बजाने की अनुमति दी गई है। उन्होंने बताया कि जिस डीजे को जब्त किया गया था वो बहुत हैवी वोल्टेज तेज ध्वनि वाला था जिसे जबलपुर से मंगवाया गया था। बहरहाल दो डीजे के साथ धूम-धाम से चल समारोह निकाला गया।