स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही, बिना जांच के ही घर लौटे 16 मजदूर

सागर। विनोद जैन। एक तरफ जहां कोरोना वायरस की महामारी से पूरी दुनियां जूझ रही है और लाक डाउन लगाकर पूरी दुनियां को घरों में कैद कर दिया गया है। जिसके लोगों का आपस में संपर्क टूट जाये और इस बीमारी से छुटकारा मिल जाये लेकिन सागर जिले की सुरखी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में बुधवार को दोपहर 12 बजे लगभग 16 लोग ऐंसे पहुंचे। जो दूसरे राज्य और जिलों से अपने अपने गांव आये थे और कोरोना के चलते जांच करानी थी लेकिन यहां अस्पताल में कोई डाक्टर और स्टाफ नहीं था। जब प्रभारी मनीष शाक्य से मीडिया ने जानकारी चाही तो उन्होनें बताया कि सुरक्षा कारणों के चलते मरीजों की जांच अस्पताल में नहीं उनके घर जाकर होगी। टीम उनके घर जाकर जांच करेगी क्योंकि अगर इनमें कोई व्यक्ति कोरोना से पीडित हुआ तो पूरी अस्पताल स्टाफ और अन्य मरीज संक्रिमित हो जायेंगें। लोग जांच करने के लिये टोल फ्री नंबर का उपयोग करें और 14 दिन तक अपने घर में रहें। लेकिन सोचनीय बात है कि किसी को भी टोल फ्री नंबर तक नहीं मालूम था, यहां तक स्टाफ नर्स को भी नहीं।