सरकारी कागजों में घट गई महंगाई! मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को फायदा पहुँचाने के आरोप, कांग्रेस प्रत्याशी ने की कलेक्टर की शिकायत

Atul Saxena
Published on -
MP Election 2023

MP Election 2023 : मप्र में विधानसभा चुनाव का माहौल है, निर्वाचन आयोग ने आदर्श आचार संहिता का पालन करने के सख्त निर्देश दिए है बावजूद इसके उल्लंघन की शिकायतें निर्वाचन आयोग के पास पहुँच रही है, आज एक शिकायत सागर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी के खिलाफ की गई है, सुरखी विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी ने रिटर्निंग ऑफिसर को की  शिकायत में कहा है कि भाजपा प्रत्याशी मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को फायदा पहुँचाने के लिए कलेक्टर ने चुनाव प्रचार में लगे वाहनों की दर में हेरफेर की है।

मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को फायदा पहुँचाने के आरोप 

मप्र के सागर जिले की सुरखी विधानसभा सीट से भाजपा की तरफ से प्रत्याशी हैं मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और कांग्रेस ने नीरज शर्मा को टिकट दिया है, नीरज शर्मा ने सुरखी के रिटर्निंग ऑफिसर को एक शिकायती आवेदन दिया है जिसमें उन्होंने आरोप लगाया है कि सागर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मंत्री को लाभ पहुंचा जो नियम विरुद्ध है।

कांग्रेस प्रत्याशी ने सागर कलेक्टर की शिकायत की  

कांग्रेस प्रत्याशी ने आरोप लगाया है कि जिला निर्वाचन अधिकारी सागर ने भाजपा प्रत्याशी  मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के प्रभाव में आकर निर्वाचन व्यय लेखा सूची में वाहन किराया राशि एवं अन्य सामग्री की कीमतों का नियम विरूद्ध तरीके से पुनः निर्धारण कर कीमतें कम की यानि नियम विरुद्ध जाकर दरों में हेराफेरी की है।

वाहनों के किराये में हेरफेर करने का आरोप 

उन्होंने शिकायत में लिखा कि जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सागर द्वारा विधान सभा निर्वाचन में प्रचार करने  के लिए व्यय लेखा (खर्च) हेतु वाहन किराया एवं अन्य सामग्री की कीमती (दर) की सूची जारी की गई थी जो कि प्रभावशील थी तथा समस्त प्रत्याशियों द्वारा उसी दर के अनुसार अपना लेखा प्रस्तुत किया जा रहा था।

कांग्रेस प्रत्याशी का आरोप कलेक्टर ने नियम विरुद्ध जाकर बदली दरें 

कांग्रेस प्रत्याशी नीरज शर्मा ने शिकायत में कहा कि भाजपा प्रत्याशी राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत द्वारा निर्वाचन आयोग की आचार संहिता के नियमों को ताक पर रखकर अपने प्रचार में बेइंतिहा खर्च किया गया जो कि उनके द्वारा खर्च की गई राशि चुनाव आयोग द्वारा निर्धारित राशि से भी ज्यादा हो गई थी जिसके चलते उनके चुनाव खर्च को कम करने के लिए जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सागर द्वारा विधान सभा निर्वाचन में प्रचार कार्य के लिए व्यय लेखा हेतु वाहन किराया एवं अन्य सामग्री की कीमतों को विधि विरुद्ध तरीके से कम किया गया।

शिकायत में कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा कि उनके द्वारा जिन वाहनों की अनुमति प्रचार कार्य हेतु प्राप्त की गई थी तथा अपने चुनावी खर्च में जिन मदों में राशि खर्च करना बताया गया था उनकी कीमतों में भारी कमी कर दी गई है जो नियमों के विपरीत है। चुनाव आरंभ होने के उपरांत नियम विरूद्ध तरीके से किसी व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचान की गरज से कीमतों को अत्याधिक रूप से कम करते हुए नवीन सूची जारी किया जाना पक्षपात की पराकाष्ठा है तथा निष्पक्ष निर्वाचन प्रक्रिया के विपरीत है, जिसकी जांच की जा कर अविलम्ब कठोर कार्यवाही किया जाना अति आवश्यक है।

कांग्रेस प्रत्याशी ने रिटर्निग ऑफिसर सुरखी को की शिकायत की कॉपी मुख्य निर्वाचन आयुक्त भारत निर्वाचन आयोग, , मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, मप्र सहित निर्वाचन से जुड़े अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से की है।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News