सागर : 02 राज्यों व 10 जिलों में पतासाजी कर 05 दिन में ढूंढ निकाले अपहरण, लूट व हत्या के आरोपी

सागर, डेस्क रिपोर्ट। सागर का बहुचर्चित सराफा व्यापारी मुन्ना लाल जैन का अपहरण कर हत्या और करोड़ो रुपयों की लूट के मामले का पुलिस ने खुलासा कर लिया है। पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए इनसे एक करोड़ रुपये के सोने- चांदी के जेवर और नगद रुपये बरामद किए है। आरोपियों से 30 लाख नगद रुपया बरामद हुआ है। आरोपियो ने क्राईम ब्रांच का अधिकारी बनकर सराफा व्यापारी मुन्ना लाल जैन का अपहरण कर सोने चांदी के जेवर लूट लिए थे और बाद में हत्या कर लाश को जला दिया। क्षत विक्षत अवस्था मे उनकी लाश मिली थी।

यह भी पढ़ें… खरगोन : नर्मदा नदी में डूबने से सरपंच पद की महिला उम्मीदवार की मौत

सागर जोन के आईजी अनुराग और एसपी तरुण नायक ने शनिवार को मीडिया के सामने पूरा खुलासा किया। पुलिस
दो राज्यों के दस जिलों में पतासाजी कर हत्यारो को वारदात के पांच दिनों के भीतर ढूढ़ निकाला। इनसे लूट का नगदी 30 लाख 79 हजार रूपये , 400 ग्राम सोना ,50 किलो ग्राम चाॅदी के जेवर बरामद किया है। इसकी कुल कीमती एक करोड़ रूपये से अधिक है। सागर जोन के आई जी अनुराग ने बताया कि 12 जून को सागर जिले के जरुआखेड़ा के सराफा व्यापारी मुन्नालाल जैन का कुछ लोगो ने नकली क्राईम ब्रांच का अधिकारी बनकर उनका अपहरण कर लिया था और फिर उनकी सराफा दुकान से सोने-चाॅदी के जेवरात व नगदी राशि लूट कर ले गये थे। इसके बाद आरोपियों ने व्यापारी को कोल्ड ड्रिंक में जहर मिलाकर पिलाया और फिर उनका गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया। घटना के दो दिन बाद राहतगढ़ के सीहीरा क्षेत्र में एक अधजली लाश मिली। जिसकी शिनाख्त मुन्नालाल जैन के रूप में हुई। पुलिस मुन्ना के अपहरण होने के बाद से ही वारदात के आरोपियो की तलाश में लगी थी।

यह भी पढ़ें… ग्वालियर क्राइम ब्रांच की त्वरित कार्यवाही, व्हाट्सएप पर भड़काऊ मैसेज करने वाले व्यक्ति को ट्रेसिंग से किया गिरफ्तार

आईजी के मुताबिक सीसीटीवी कैमरों और साईबर सेल की टीम की मदद से उनका सुराग मिला। साईबर सेल से मोबाईल फोन की ट्रेसिंग में कुछ नम्बर सामने आए। जिनके आधार पर आरोपियो की तलाश हुई। इसमें ज्यादातर भोपाल के आरोपी थे। लेकिन उनका निवास अन्य जिलों में था। भोपाल में अलग अलग तरह के कामधन्धो में लगे रहते थे। अभी ने योजनाबद्ध तरीके से रेकी कर पूरी वारदात को अंजाम दिया। इसने दो आरोपी सागर जिले के खुरई और बीना से थे। जिन्होंने सराफा व्यापारी के पास करोड़ो का आसामी बताकर रेकी की थी।

घटना में पकड़े गए आरोपी-
1.अतुल वर्मा पिता हीरालाल वर्मा उम्र 28 वर्ष नि.ग्राम धाँधी पोस्ट करोंददी तहसील थाना गुढ़ जिला रीवा
2.रूपेश शिरोडे पिता मधुकर शिरोडे उम्र 40 साल नि. 706 जीत होम्स अयोध्या वायपास रोड थाना
अयोध्या नगर भोपाल
3.गौरव त्रिवेदी पिता रमेशचंद त्रिवेदी उम्र 40 साल नि. 100-ए परिवहन नगर हवा बंगला रोड इंदौर
हाल नि. जीत होम्स अयोध्या नगर विल्डिंग नं-05 फ्लेट नं.-706 भोपाल
4.देवराज गुर्जर पिता केशर सींग गुर्जर उम्र 21 साल नि. पचैर तहसील व थाना पचैर जिला राजगढ़
5. धर्मेन्द्र निवासी खुरई जिला सागर
6. आकाश राय निवासी भोपाल