सागर।

मध्यप्रदेश के सागर जिले के बीना मे शुक्रवार को भानगढ़ थाने की जमीन पर अतिक्रमण को लेकर  थाना प्रभारी और सरपंच के बीच बहस हो गई।बात इतनी बढ़ी की थाना प्रभारी ने सरपंच को धमकी देते हुए कहा कि  अगर शासकीय काम में बाधा पहुंचाने की कोशिश की तो हम 353 का केस ठोक देंगे। विवाद बढ़ता देख तहसीलदार ने बीच बचाव किया और कहा विवाद बाहर करें यहां तो सिर्फ काम की बात करो। इसके बाद दोनों के बीच बहस खत्म हो गई।

विधायक निधि से भानगढ़ थाने में बाउंड्रीवॉल का निर्माण होना है। पुलिस थाने की जमीन पर पिलर के लिए कड्ढे किए गए हैं, लेकिन सरपंच डेढ़ मीटर जमीन छोड़कर बाउंड्रीवॉल बनवाना चाहते हैं।जिसको लेकर दोनों के बीच शुक्रवार को विवाद हो गया।इसके बाद दोनों पक्ष शिकायत करने तहसील पहुंचे।  थाना प्रभारी सुबोध मिश्रा ने तहसीलदार को रिकॉर्ड दिखाया और सरपंच ने भी अपना पक्ष रखा।इस दौरान दोनों के बीच बहस जारी रही। इतने में सरपंच ने थाना प्रभारी की किसी से फोन पर बात कराने की कोशिश, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। साथ ही सरपंच को सीधा धमकी देते हुए कहा कि अगर शासकीय काम में बाधा पहुंचाने की कोशिश की तो हम 353 का केस ठोक देंगे। विवाद बढ़ता देख तहसीलदार ने कहा विवाद बाहर करें यहां तो सिर्फ काम की बात करो। इसके बाद दोनों के बीच बहस खत्म हो गई।

थाना प्रभारी का आरोप है कि इससे पहले भी सरपंच पुलिस थाने की जमीन पर अतिक्रमण कर चुके हैं।  सरपंच विधायक निधि से मिली राशि में कमीशन चाहते हैं। मेरे आपत्ति जताने पर वह इस तर अनर्गल आरोप लगा रहे हैं। जमीन के सीमांकन के लिए तहसीलदार को पत्र लिखा है। जहां से पुलिस थाने की जमीन होगी, वहीं से बाउंड्रीवॉल का निर्माण किया जाएगा। अगर निर्माण कार्य रोकने के प्रयास किया तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।