रिश्वत लेने वालों के लिए शुक्रवार का दिन रहा भारी, भोपाल, इंदौर के बाद सतना में भी लोकायुक्त की कार्रवाई

सतना, डेस्क रिपोर्ट। शुक्रवार का दिन प्रदेश मे रिश्वत लेने वालों के लिए बेहद भारी रहा, इंदौर, भोपाल के बाद सतना में जिले की मैहर तहसील में विद्युत विभाग के कनिष्‍ठ अभियंता सतीश तिवारी को लोकायुक्त रीवा की टीम ने रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा। इस कनिष्‍ठ अभियंता के खिलाफ आवेदक का आरोप है कि कुछ रुपये देने के बाद भी उसका काम नहीं किया जा रहा था और पैसों की मांग की जा रही थी।

यह भी पढ़ें… Government Job 2022 : कंसल्टेंट के पदों पर निकली भर्ती, मिलेगी अच्छी सैलेरी, 10 अप्रैल से पहले करें अप्लाई

बताया जा रहा है कि लोकायुक्त रीवा की कार्यवाई में आवेदक अखिलेश चौरसिया ने शिकायत की थी कि मुरमुरा मिल में लगे विद्युत कनेक्शन का लोड बढ्वाने के एवज में कनिष्‍ठ अभियंता सतीश तिवारी रिश्वत मांग रहा था जिसे पूर्व में आवेदक 500 रुपये दे चुका था लेकिन उसके बाद भी लगातार और पैसों की मांग कर रहा था जिसकी शिकायत आवेदक ने लोकायुक्त रीवा में की, जिसके बाद लोकायुक्त की टीम ने रणनीति बनाकर आवेदक को शुक्रवार सतीश तिवारी के पास भेजा, जैसे ही आवेदक ने 1500 रुपये सतीश तिवारी को दिए, उसी दौरान बाहर मौके पर मौजूद पर लोकायुक्त की टीम ने उसे धर दबोचा, इस मामलें में कनिष्‍ठ अभियंता के कम्‍प्‍यूटर आपरेटर संदीप पटेल को भी पकड़ा गया है, जो सतीश तिवारी के लिए रिश्वत का पैसा लेने का काम करते था। फिलहाल लोकायुक्त की मौके पर कार्रवाई जारी है।