राजनीति से सन्यास लेने के बयान पर अजय सिंह ने दी सफाई, कही ये बात

सतना, पुष्पराज सिंह बघेल। मध्य प्रदेश में 28 सीटों के लिए संपन्न हुए उपचुनाव का फैसला 10 तारीख को आयेगा, लेकिन मतदान के बाद से कयास और दावों का दौर जारी है। कांग्रेस जहा दोबारा सत्तासीन होने का दावा कर रही तो सत्तासीन भाजपा पूर्ण बहुमत की सरकार बनने के दावे कर रही है। कांग्रेस नेता अजय सिंह (ajay singh) ने सरकार न बनने पर राजनीति से सन्यास लेने की बात पर कहा कि चुनाव के दौरान कई तरह की बातें बोलनी पड़ती है, लेकिन जरूरी नहीं कि सबपर अमल किया जाए।

पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल ने कहा है कि बीजेपी सरकार कुछ दिन की मेहमान है। दस तारीख को दोबारा कांग्रस की सरकार बनेगी। उन्होने कहा कि ये चुनाव जनता और भाजपा के बीच था। इस मौके पर अजय सिंह ने अपने उस भाषण पर भी सफाई दी जिसमें उन्होंने कहा था कि सत्ता वापसी न होने पर वे राजनीति से सन्यास ले लेंगे। अजय सिंह ने कहा की कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए बहुत कुछ बोलना पड़ता है, लेकिन जरूरी नहीं वो पत्थर की लकीर हो। अजय सिंह ने कहा कि चम्बल की 16 सीटों मे भाजपा का खाता नहीं खुलेगा। ज्योतिरादित्य सिंधिया के राजनीतिक भविष्य पर पूछे गए सवाल के जवाब में अजय सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने आप ही सब कुछ कह दिया है, जो मैं बोल भी नहीं सकता।