कांग्रेस ने पदयात्रा निकाली, कृषि बिल का किया विरोध

सतना, पुष्पराज सिंह बघेल। गाँधी जयंती पर कांग्रेस ने पद यात्रा निकालकर सरकार द्वारा हाल में लाए गए कृषि विधेयकों का विरोध किया। सतना जिला पंचायत उपाध्यक्ष ने पद यात्रा निकालकर सरकार द्वारा लागू कृषि बिल पर विरोध जताया।

ज़िला पंचायत उपाध्यक्ष एवं कांग्रेस नेता डॉक्टर रश्मि सिंह ने गांधी जयंती पर पदयात्रा कर कृषि बिल-मज़दूर बिल का विरोध किया है। मैहर सभागंज में राजीव गाँधी पंचायती राज संगठन द्वारा गाँधी जयंती पर मुख्य अतिथि सतना ज़िला पंचायत उपाध्यक्ष डॉक्टर रश्मि सिंह एवं अध्यक्षता कर रहे पंचायती राज संगठन ज़िला अध्यक्ष अरुण प्रजापति, किसानों, ग्रामीण महिलाओं ने पदयात्रा कर कृषि बिल-मज़दूर बिल का विरोध करते हुए किसान-मजदूर बचाओ के नारे लगाए।

सतना ज़िला पंचायत उपाध्यक्ष एवं कांग्रेस नेत्री डॉक्टर रश्मि सिंह ने विश्व में अहिंसा का संदेश देने वाले महात्मा गांधी तथा जय जवान जय किसान का नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री जी की छायाचित्र पर माल्यार्पण कर कहा कि एनडीए द्वारा लाए गये अध्यादेश की जगह लेने वाले तीन फार्म, बिल किसान समुदाय के हित में नहीं है। यह करोड़ों किसानों और अन्य लोगों की आजीविका को प्रभावित करेगा जो कृषि क्षेत्र पर निर्भर है। बिल मंडियों में कृषि उपज की प्रतिस्पर्धी बोली के साथ दूर करेंगे, जिसके परिणामस्वरुप किसानों के लिए गैर -पारिश्रमिक मूल्य नहीं होगा, ऐसी आशंकाएं है कि सरकार एमएससी में कृषि उपज की खरीद को रोकना चाहती है। यदि एमएसपी को दूर किया जाता है तो यह खाद सुरक्षा पर भी प्रतिकूल प्रभाव डालेगा। भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र को पूरी तरह से बर्बाद करने का काम कर रही है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे अरुण प्रजापति ने कहा कि किसान के साथ मजदूरों के लिए भी घातक दौर है।