राजगढ़ कलेक्टर को लेकर बोले पूर्व मंत्री, ‘नंबर बढ़ाने निकम्मे अफसर कर रहे ऐसा काम’

सतना। पुष्पराज सिंह बघेल।

मध्य प्रदेश के सतना जिले में पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल ने शुक्रवार को भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ सरकार के एंटी माफिया अभियान के खिलाफ मोर्चा खोला। उन्होंने सतना जिला कलेक्टर कार्यालय का घेराव किया गया। लेकिन उनके साथ भाजपा के मुट्ठी भर कार्यकर्ता ही इस विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। इस दौरान शुक्ला राज्य सरकार पर जमकर बरसे यही नहीं उन्होंने राजगढ़ मामले में भी बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि कुछ निकम्मे अधिकारी अपना नंबर बढ़ाने और बड़े जिलो की कमान मिलने की आस में इस तरह की हरकत कर रहे।

राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि किसान परेशान हैं, युवा बेरोजगार घूम रहे हैं, महिलाएं असुरक्षित हैं, अपराध चरम पर है और सरकार तबादलों में मस्त हैं। माफिया के विरुद्ध कार्यवाही के नाम पर सांठ-गांठ कर माफियाओं को अभयदान दिया जा रहा है और एक साधारण व्यक्ति पर कार्यवाही की जा रही है।

किसान परेशान है कर्जमाफी के झूठ के चलते किसान ने लोन ले पा रहा है ना फसल बीमा ले पा रहा है और न ही खाद बीज प्राप्त कर पा रहा है। बात तो गौशाला खौलने की भी हुई थी पर खुल मधुशाला रही है कमलनाथ बताएं कि इन 14 माह में सरकार ने कितनी गौ शाला खोली, कितने किसानों को नीलगाय की समस्या से निजात दिलाई। कितने किसानों को गेंहू का 165 रुपये बोनस दिया गया ए कितने किसानों को सोयाबिन का भावन्तर दिया गया। शुक्ला ने कहा कि इस सरकार ने सत्ता प्राप्ति के लिए जितनी भी घोषणाएं की थी उनमे से एक भी पूरी नही कर पाई है और जो इसलिए समस्याओं ध्यान भटकाने के लिए कमलनाथ सरकार प्रदेश में माफिया अभियान के तहत कानून व्यवस्था बहाल करने का आडम्बर कर रही है।