सीहोर, अनुराग शर्मा। पंचायत और नगरीय निकाय चुनावों को लेकर जिला प्रशासन और राजनीतिक दल जहा सक्रिय हो गए हैं वहीं बीएलओ बनाए गए शिक्षिकों की निर्वाचन कार्य में बरती गई लापरवाहियां भी खुलकर सामने आने लगी है। यहां बीएलओ की लापरवाही से चार सौ मतदाता परिचय पत्र में गलत गांव का नाम छप गया है।

विधानसभा क्षेत्र सीहेार जनपद पंचायत सीहेार के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत सातनबाड़ी में नियुक्त बीएलओ शिक्षक रूपनारायण गुजर ने चार सौ से अधिक मतदाताओं के वोटर आईडी में पते के स्थान पर भोईपुरा छपवा दिया। मतदाताओं के नाम में भी त्रुटियां कर दी है। कलेक्ट्रेट पहुंचे ग्रामीणों का कहना था की ग्राम पंचायत में कोई भोईपुरा नाम का गांव या मोहल्ला नहीं है फिर भोईपुरा वोटर आईडी में कैसे चस्पा हो गया।

ग्रामीणों ने विधायक सुदेश राय और डिप्टी कलेक्टर रवि वर्मा को त्रुटिपूर्ण वोटर आईडी की फोटोकापी दिखाते हुए कहा की भोईपुरा लिखा होने के कारण वोटर आईडी खराब हो चुके है। भोईपुरा नाम का कोई गांव हीं नहीं है। किसी भी शासकीय कार्य और अन्य योजनाओं में यह काम नहीं आएंगे। भूमि संबंधि सरकारी दस्तावेजों में भी कहीं भोईपुरा नहीं लिखा है जिस से भविष्य में काफी परेशानी का सामना ग्रामीणों को करना होगा। ग्रामीणों ने कहा की ग्राम पंचायत चुनाव के दौरान मतदान करने में भी दिक्कत हो सकती है क्योंकी सूची में भोईपुरा कहीं नहीं लिखा है।

कलेक्ट्रेट शिकायत लेकर पहुंचे ग्रामवासियों ने लापरवाह बीएलओ पर निर्वाचन कार्य में लापरवाहीं करने पर सख्त कार्रवाही करने और सातनबाड़ी के बनाए गए चार सौ मतदाताओं के वोटरकार्ड निरस्त करने सहित पंचायत चुनावों के पूर्व नवीन त्रुटिरहित कार्ड बनाए जाने की मांग की। सातनबाड़ी के नारायण सिंह, विमलेश सिंह, मुकेश, हरिनारायण, अभिषेक, सूरज सिंह, लखन सिंह, जगदीश, हेमराज, संतोष आदि ने जिला प्रशासन से की है।