aap-candidate-withdraw-form

आष्टा । मोहम्मद सादिक। 

विधानसभा चुनाव में प्रत्याशीयो की नामवापसी का समय भी बुधवार को खत्म हो चुका है। 10 प्रत्याशीयो ने अपना नामांकन फार्म जमा किया था। जिसमे से एक प्रत्याशी ओमकार बामनिया जो कि आम आदमी पार्टी से है अपना नामांकन फार्म वापस ले लिया है। अब 9 प्रत्याशी मैदान में शेष है। अब 9 प्रत्याशी मेदान में रहेगे। जिसमें मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच रहेगा। लेकिन कोई बड़ी बात नही है कि जहां प्रजातात्रिक समाधान पार्टी भी जिस तरह से मेहनत कर रही है। उससे ऐसा लगता है कि वह भी काफी हद तक फेरबदल कर सकती है भाजपा प्रत्याशी रघूनाथ मालवीय के लिए ये दुख का कारण बनती जा रही भाजपा से बागी श्रीमति उर्मिला मरेठा भी मैदान मे डटी हुई है। भाजपा के चाहने वाले चेहरो पर उस समय मायुसी छा गई जब अंतिम समय तक उर्मिला मरेठा ने अपना नामांकन फार्म नही निकाला। अब 9 प्रत्याशी  मैदान में शेष बचे है। 9 का यह आंकड़ा किसके लिए शुभ और किसके लिए अशुभ होगा यह आनेवाला समय तय करेगा। 

नारी शक्ति डटी नही, भाजपा होगा नुकसान

वर्तमान में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति उर्मिला मरेठा ने तमाम अटकलो को विराम लगाते हुए अंतिम समय तक अपना फार्म नही निकालने से भाजपा प्रत्याशी रघुनाथ सिंह मालवीय का बड़ा नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है । अभी तक लोगो को यही उम्मीद थी कि श्रीमति मरेठा नामांकन फार्म निकाल लेगी लेकिन उर्मिला मरेठा अपनी बात पर  डटी रही और फार्म नही निकाला। और अपने चुनाव चिहन ट्रैक्टर के साथ दौड़ लगा दी।