चुनावी दौर में VIDEO मचा रहे हलचल, अब बीजेपी प्रत्याशी का वीडियो हुआ वायरल

bjp-candidate-karan-singh-verma-video-viral-

सीहोर। मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में राजनीती का पारा उबाल पर है| प्रत्याशियों ने जहाँ जनता को साधने में एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है| वहीं वायरल हो रहे ऑडियो वीडियो भी नेताओं का खेल बिगाड़ रहे हैं| पिछले एक सप्ताह में ही दर्जनों वीडियो वायरल हो चुके हैं, जो चुनावी माहौल में सुर्खिया बने| इसमें कई वीडियो तो शीर्ष स्तर के नेताओं के भी सामने आये जिसके चलते विरोधी खेमा भी हमले के लिए तैयार है| वहीं अब पूर्व राजस्व मंत्री और सीहोर जिले की इछावर से बीजेपी प्रत्याशी करण सिंह वर्मा का वीडियो वायरल हुआ है| इस वीडियो में वह कार में बैठकर पैसे बांटते हुए नजर आ रहे हैं| 

वायरल हो रहे इस वीडियो में करण सिंह वर्मा अपनी गाड़ी में बैठे हुए हैं और हाथ में पैसे लेकर वह किसी व्यक्ति को आवाज लगाकर पैसे लेने की बात कर रहे हैं| वहीं सड़क पर और भी गाड़ियां खड़ी हैं, जिनमे भाजपा का झंडा लगा हुआ है| वीडियो में करण सिंह वर्मा किसी वयक्ति को पैसे देने की बात कहते सुनाई दे रहे है, उनके हाथ मे नोटों की गड्डी भी दिखाई दे रही है, वहीं करण सिंह वर्मा की गाड़ी में पीछे की सीट पर भाजपा नेता जगदीश मेवाड़ा भी दिख रहे है| यह वीडियो इछावर विधानसभा के बरखेड़ी इलाके का बताया जा रहा है | बताया जा रहा है कि जब यह वीडियो रिकॉर्ड हुआ है उस वक्त बीजेपी प्रत्याशी किसी गांव में प्रचार कर रहे थे| चुनावी समय है, जिसके चलते यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, हालाँकि इसकी पुष्टि नहीं है कि वह पैसे किसे बाँट रहे हैं|   

 वायरल वीडियो को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला बोला है | कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष सैयद जाफर ने आरोप लगाया है कि बीजेपी के मंत्री और मुख्यमंत्री पैसों के बल पर चुनाव जीतना चाहते हैं| यह पहली बार नहीं है, इसके पहले गौरीशंकर शेजवार और मुकेश टंडन ने भी पैसे, शराब और साड़ी के दम पर चुनाव जीतने की बात कही है| 

इछावर सीट बीजेपी का गढ़ है, हालांकि 2013 के चुनाव में उसे हार का सामना करना पड़ा था| इछावर के बारे में एक और बात खास है, कहा जाता है कि जो मुख्यमंत्री इछावर का दौरा करता है उसको कुर्सी गंवानी पड़ती है और इतिहास भी कुछ ऐसा ही बताता है| वहीं करण सिंह वर्मा बीजेपी के एक कद्दावर नेता है और उमा भारती के सरकार मे पीडब्लयू मिनिस्टर थे और 2008-2013 तक शिवराज सिंह चौहान के सरकार मे राजस्व मंत्री थे| 2013 में वर्मा कांग्रेस के शैलेंद्र पटेल से चुनाव हार गए थे|  शैलंद्र पटेल ने उन्हें सिर्फ 744 वोटों से हराया था| वहीं 2008 के चुनाव में बीजेपी के करण सिंह वर्मा ने कांग्रेस के डॉ. बलवीर तोमर को 18 हजार से ज्यादा वोटों से हराया था| इस चुनाव में करण सिंह को 50129 वोट मिले थे तो वहीं डॉ. बलवीर तोमर को 31977 वोट मिले थे| बीजेपी ने एक बार फिर इस सीट से करण वर्मा को मैदान में उतारा है| 

एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है