बस ऑपरेटरों की बढ़ी चिंता, बसें तो चली पर नहीं दिखे यात्री

सीहोर, अनुराग शर्मा।  लंबे इंतजार के बाद जब सोमवार को सीहोर के बस ऑपरेटरों ने बस चलाने का निर्णय तो लिया इसमें स्थानीय बस मालिकों ने भी ऐसो एसोसिएशन के मुताबिक निर्णय में सहमति जता। ई इसके चलते नगर की सड़कों से भी सोमवार को बसों का संचालन दिखाई दिया। हालांकि सड़कों पर इक्का-दुक्का बस ऐसे ही चलती हुई नजर आई।

24 मार्च से कोविड-19 कर्फ्यू के बाद 5 सितंबर तक बसों के पहिए थमे रहे।  बस आपरेटर व सरकार के प्रतिनिधियों के बीच कई दौर की बातचीत हुई।  सरकार ने लाकडान अवधि के साथ ही अनलॉक में बसों का टैक्स माफ किया जाने पर सहमति जताई।  बस ऑपरेटरों को बस चलाए जाने के नए आदेश जारी किए।  सरकार के द्वारा नए आदेश जारी किए जाने के बाद यह बात बनी और 6 सितंबर से पूरे प्रदेश में बस सेवा शुरू हुई। बसों में दिखा सवारियों का भाव वर्तमान में सीहोर नगर से भोपाल इछावर नसरुल्लागंज नरसिंहगढ़ की सीधी बस सेवा प्रारंभ हो चुकी है।

सरकार द्वारा बस ऑपरेटरों का लाखडाउन अवधि का टैक्स माफ कर दिया हो।लेकिन उसके बावजूद भी स्थानीय बस ऑपरेटर यात्रियों का रुख देखकर ही आगे निर्णय लेंगे। सरकार ने किराया बढ़ाने के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया है। बसों के संचालन के दौरान कोविड-19 के नियमों का पालन करना। इस स्थिति में बसों का संचालन करना कहीं घाटे का सौदा ना साबित हो। इसलिए अभी नगर के कई बसें संचालक आने वाले दिनों की स्थितियां देखकर ही निर्णय लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here