जिला शिक्षा अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी, कलेक्टर ने की टीएल बैठक में समीक्षा

collector-issuce-show-cause-notice-to-DEO

सीहोर।  कलेक्टर  गणेश शंकर मिश्रा सोमवार को समय सीमा बैठक के दौरान सभी विभागों के कार्यों की समीक्षा की। जिला शिक्षा अधिकारी  एस.पी. त्रिपाठी को कलेक्टर से अनुमति प्राप्त किये बिना शासकीय कार्य के कारण बैठक से अनुपस्थित होने एवं अभी तक लोक सेवा केन्द्रों को कक्षा 1 के बच्चों के जाति प्रमाण पत्र फार्म न भेजने के लिये कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये हैं।

      कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि सीएम हेल्प लाईन में दर्ज शिकायतों का निराकरण एल-1 एवं एल-2 स्तर पर ही करने का प्रयास करें। जो प्रकरण कलेक्टर द्वारा निराकृत होने हैं उनके संबंध में नोटशीट प्रस्तुत करने के बाद ही ऑनलाइन जानकारी दर्ज करें। मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई को लेकर भी कलेक्टर ने निर्देश दिये हैं कि जिन अधिकारियों के प्रकरण लंबित हैं वे शिकायतों की पूर्ण जानकारी प्रिंट करवाकर साथ में लाएं तथा अपने साथ शिकायतकर्ता एवं किसी सहायक को भी लाएं।

      सभी अनुविभागीय अधिकारी एवं तहसीलदारों को कलेक्टर ने निर्देश दिये कि राजस्व वसूली को नगद में ही करें। वसूली करने वाले पटवारी के पास रसीद कट्टा होना अनिवार्य है। सभी अनुविभागीय अधिकारी 15 दिनों में एक बार अपने स्तर पर समय सीमा बैठक आयोजित करें। आर.सी.एम.एस एवं संपदा साफ्टवेयर के संबंध में प्रशिक्षण 8 जनवरी को प्रात: 10:30 बजे से ई-दक्ष केन्द्र सीहोर में आयोजित किया जाएगा। प्रशिक्षण में राजस्व अधिकारियों के कम्प्यूटर ऑपरेटर एवं प्रवाचकों की उपस्थिति अनिवार्य है।