रेत के खेल पर संतों की चौकसी, कम्प्यूटर बाबा ने साधु संतों के साथ डाला डेरा

सीहोर।   अनुराग शर्मा ।

सीहोर मध्यप्रदेश। प्रदेश में अवैध उत्खनन को रोकने में पिछली बीजेपी और वर्तमान सरकार के अधिकारी नाकाम हो गए,अब नर्मदा न्यास समिति अध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा की अगुवाई में साधु संतों ने अवैध उत्खनन को रोकने के लिए नर्मदा नदी के किनारे अपना डेरा जमा लिया। संतों ने दावा किया कि जब तक अवैध उत्खनन पर पूर्णता रोक नहीं लग जाती तब वे यही डटे र​हेंगे। नदी किनारे साधु संतों की मौजुदगी ने स्थानिय अधिकारियों से लेकर राजधानी तक के अधिकारियों की मुसीबतें बढा दी है।

पूर्व घोषणा के अनुसार नर्मदा न्यास समिति अध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा शानिवार को सेकडों साधु संतों साध सीहोर जिले के नसरूल्लागंज-रेहटी इलाके में रेत खदानों में पहुंचें। यह इलाका पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की विधानसभा में आता है। कम्प्यूटर बाबा के रेत खदोनों में धरना देने से रेत माफिया सहित स्थानिय पुलिस,राजस्व और खनन अधिकरियों,कर्मचारियों की कमाई मारी जाएगी। इन अधिकारियों के गठबंधन से ही बुधनी इलाके सहित प्रदेश अन्य इलाकों में अवैध उत्खनन हो रहा है। बाबा से स्पष्ट कर दिया कि सरकार के मुखिया कमलनाथ ने जनता से वादा किया है कि अवैध उत्खनन बंद किया जाएगा,वहीं काम वो साधु संतों के साथ कर रहे हैं।

— भाजपा सरकार में खूब बढ़ा रेत का अवैध करोबार

नर्मदा न्यास समिति अध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि भाजपा सरकार के 15 साल के कार्यकाल में नर्मदा नदी का सीना छलनी कर रेत का अवैध करोबार खूब बढ़ा अब इस पर लगाम कसने का समय आ गया है। प्रदेश में कहीं सबसे अधिक अवैध उत्खनन हुआ है तो वह बुधनी विधानसभा है। कमलनाथ सरकार 

ने नदियों के संरक्षण का जो वचन दिया है उसे हम पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में रेत के अवैध उत्खनन के काम में कमी आई है, धीरे-धीरे पूरी तरह बन्द हो जाएगा।

गौरतलब है कि बुधनी क्षेत्र में नर्मदा नदी से रेत के अवैध उत्खनन की मिल रही लगातार शिकायतों के बाद कम्प्यूटर बाबा बुधनी क्षेत्र में डेरा डालकर सैकड़ों की संख्या में आये साधु संतों के साथ नर्मदा घाटों की चौकसी कर रहे हैं। उन्होंने नर्मदा किनारे पौधरोपण व स्वच्छता अभियान चलाया जाने की बात कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here