भाजपा से निष्कासित जिला पंचायत अध्यक्ष मुख्यमंत्री के मंच पर

सीहोर, अनुराग शर्मा| ‘जिधर दम उधर हम’ वाली कहावत तो आपने सुनी ही होगी, ऐसी कहावत आजकल जिले के राजनीतिक पंडितों के मुंह से सुनने को खूब मिल रही है| 15 वर्षों बाद भाजपा की सरकार (BJP Government) को चुनाव में हार क्या मिली जिले के नेताओ ने कांग्रेस (Congress) की ओर रुख कर लिया| एक के बाद एक नेता कांग्रेस में शामिल होने लगे| जिला पंचायत अध्यक्ष (District Panchayat President) जब तक भाजपा की सरकार थी भाजपाई रही, जैसे ही सरकार बदली कांग्रेस का दामन थाम लिया| भाजपा ने इनको बाहर का रास्ता भी दिखा दिया|

15 महीनों बाद राजनीति ने आचनक करवट बदली और प्रदेश में फिर भाजपा की सरकार का आगाज हुआ| शिवराज सिंह चौहान फिर से मुख्यमंत्री बने| भाजपा की सरकार बनते ही भाजपा से कांग्रेस में गए राजनेताओं का फिर से भाजपा के प्रति प्रेम जाग गया है| जिला पंचायत अध्यक्ष उर्मिला मरेठा फिर से भाजपा के कार्यक्रमो में शामिल होने लगी है|

मौका था नसरुल्लागंज में सीएम शिवराज का दौरा कार्यक्रम का| जब शिवराज की उपस्थिति में उर्मिला मरेठा ने मंच साझा किया| ये बात भाजपा के निष्ठावान कार्यकर्ताओ को नागवार लगी और दबी जुबान से जिला पंचायत अध्यक्ष की बुराई करने लगे कि अगर ऐसा रहा तो फिर हम लोगो का क्या होगा ऐसे तो मतलब परस्त नेताओ का ही भाजपा में बोलबाला रहेगा|

2018 में भाजपा से निष्कासन का पत्र

भाजपा से निष्कासित जिला पंचायत अध्यक्ष मुख्यमंत्री के मंच पर