पिता ने बेटी के शव को कब्रिस्तान में किया दफन, 10 साल बाद पुलिस ने खोद कर निकाला

परिजनों की निशानदेही पर सोमवार को मंडी थाना पुलिस ने प्रशासनिक अधिकारियों और डॉक्टरों की टीम के साथ मुड़ला खुर्द के क्रबस्थान में जेसीबी से खुदाई कराई तो यहाँ से एक शव के अवशेष प्राप्त हुए।

सीहोर, अनुराग शर्मा| गुम बालिकाओं के दस्तयाब को लेकर पुलिस मुहिम चला रही है। इस दौरान मंडी थाना पुलिस ने एक सनसनीखेज मामले को उजागर किया। जहां 10 साल पहले लड़की के परिजनों ने थाने में गुम हो जाने की रिपोर्ट (Missing Report) दर्ज कराई थी। सोमवार को पुलिस (Police) ने प्रशासन की मौजूदगी में एक कब्रस्तान में खुदाई कराई तो उसी लड़की के शव के अवशेष मिले।

मंडी थाना प्रभारी मनोज मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि 2011 में ग्राम मनखेड़ा निवासी इकराम ने उसकी 17 वर्षीय बेटी अनम के गुम हो जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। गुम बालिका दस्तयाब मुहिम के दौरान जब बच्ची के माता पिता से थाने बुलाकर पूछताछ की गई तो उन्होंने मामले में खात्मा लगाने की बात कही। जिससे पुलिस का शक परिजनों पर गया। जब सख्ती से पूछताछ किया तो उन्होंने कबूल किया कि लड़की ने जहर खाकर आत्महत्या की थी और उसे ग्राम मुड़ला खुर्द के कब्रस्तान में रात को डाल दिया।

परिजनों की निशानदेही पर सोमवार को मंडी थाना पुलिस ने प्रशासनिक अधिकारियों और डॉक्टरों की टीम के साथ मुड़ला खुर्द के कब्रस्तान में जेसीबी से खुदाई कराई तो यहाँ से एक शव के अवशेष प्राप्त हुए। जिन्हें परीक्षण के लिए भोपाल मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। पुलिस ने मृतिका के पिता इकराम, भाई इकरार ओर ग्राम के दो युवक जो शमीम और इस्माइल को गिरफ्तार कर लिया है जिनसे कड़ाई से पूछताछ की जा रही है। मंडी टीआई मिश्रा ने बताया कि मृतिका के पिता ने ग्राम के दो युवकों के साथ बाइक पर अनम के शव को करबस्तान में लाकर दफन कर दिया। बताया कि मामला ऑनर किलिंग से जुड़ा भी हो सकता है। पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here