कमलनाथ सरकार कबतक बच पाएगी भगवान गणेश ही जानते हैं: गोपाल भार्गव

सीहोर। अनुराग शर्मा। 

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव शनिवार शाम सीहोर के प्राचीन चिंतामण गणेश मंदिर पहुंचे और विधि-विधान से पूजा अर्चना की। इस दौरान उन्होंने दिग्विजय सिंह पर जमकर निशाना साधा और उन्हें वृद्धावस्था में मानसिक तनाव में गुजर रहा व्यक्ति बताया। एनआरसी और सीएए को लेकर भार्गव ने कहा कि देश को धर्मशाला बनने से रोकने के लिए ये कानून लाया गया है, क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी नहीं चाहते कि कोई बाहरी इस देश में आए और यहां की शांति और सौहार्द के साथ खिलवाड़ कर दंगे भड़काए।

दिग्विजय सिंह के बयानों को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि ‘वे मानसिक रूप से वृद्धावस्था में पहुंच चुके हैं, जिस दिन वो कुछ नहीं बोलेंगे तो बीमार पड़ जाएंगे। उनकी अंगुलियां जब तक ट्वीटर पर न चलें तब तक उनका तनाव कम नहीं होता है.’ नागरिकता कानून को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि ‘लोग इस विषय को समझ नहीं पाए प्रधानमंत्री और गृहमंत्री जी जो कानून लेकर आए हैं इसका अर्थ यह है कि देश को एक धर्मशाला नहीं बनाना है देश-देश ही रहेगा. उन्होंने कहा कि वे नहीं चाहते कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से बगैर किसी प्रमाण पत्र के कोई भी बाहरी आए और देश में दंगे भड़काए और शांति भंग करे. कमलनाथ सरकार के एक साल पूर्व होने पर गोपाल भार्गव ने कहा कि ‘सरकार अपने आप को बचाने में लगी हुई है और कब तक बच पाती है कब तक नहीं ये भगवान गणेश जी जानते हैं