उजागर हुआ अस्पताल प्रबंधन का अमानवीय चेहरा, घंटों पड़ा रहा बुजुर्ग का शव

सीहोर। अनुराग शर्मा।  सीहोर के गंज क्षेत्र के शरीफ खान उम्र 70 वर्ष विगत रात से अस्पताल में भर्ती थे सुबह चाय पीने के लिए अस्पताल के बाहर आये और फिर अस्पताल परिसर में रखी बेंच पर लेट गए और इसी दौरान उनकी मौत हो गई इस बीच कई मरीजो के परिजनों ने अस्पताल स्टाफ को सूचना दी कि कोई बुजुर्ग बेच पर बेसुध पड़ा है मगर मजाल अस्पताल कर्मियों की जाकर देख ले कि क्या मामला है तकरीबन 2 घंटो से अधिक समय तक यू ही पडा बुजुर्ग को कब मौत ने अपने आगोश में ली लिया किसी को पता ही नही चला बाद में परिजनों के आने के बाद शरीफ खान के शव को परिजन ऑटो में लेकर अपने घर चल दिये तब तक अस्पताल प्रबंधन का कोई अता पता नही था।

अब सवाल ये  उठता है कि एक मरीज जो पिछले 24 घण्टे से अस्पताल में भर्ती था अपने बेड से 2 घण्टे से अधिक समय से गायब है और अस्पताल प्रबंधन को न तो उसके गायब होने और न ही भर्ती मरीज की कोई खोज खबर के प्रयास किये जाते है जबकि कल ही प्रभारी मंत्री आरिफ अकील ने अस्पताल का औचक निरीक्षण किया था और अस्पताल प्रबंधन को साफ सफाई और कार्य मे लापरवाही न बरतने के लिए चेतावनी भी दी थी मगर प्रभारी मंत्री के औचक निरीक्षण के 24 घण्टे भी नही गुजरे ओर अस्पताल प्रभंधन की घोर लापरवाही फिर समाने आ गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here