सीहोर में महिलाओं ने अनूठे अंदाज में शिवराज से लगाई गुहार, गाना गा कर की मुआवजे की मांग

यह गीत मुख्यतः प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उनकी धर्मपत्नी साधना सिंह और उनके बड़े पुत्र कार्तिकेय एवं छोटे कुणाल के ऊपर गाया गया है।

सीहोर, अनुराग शर्मा। सीहोर जिले (Sehore District) के गांव सेवनिया में महिलाओं ने सीएम शिवराज से एक अनोखे अंदाज में मांग की। महिलाओं द्वारा कम बारिश से खराब हुई सोयाबीन की फसलों और पिछले दो-तीन वर्षों से नहीं मिली बीमा राशि की मांग गीत गाकर की गई । सेवनिया गांव की महिलाओं ने खेत पर बैठकर ही गीत गाकर मुख्यमंत्री को मनाने का प्रयास किया। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

यह भी पढ़ें…Chhindwara: वशीकरण के शक में सास ने ली बहु की अग्निपरीक्षा, दहकते अंगारो पर चलवाया, देखें Video

दरअसल आपको बता दें कि अनोखे अंदाज में गाया हुआ यह गीत इस समय सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें कुछ महिलाएं गीत के माध्यम से सीएम को गुहार लगा रही हैं। महिलाएं जो गीत गा रही है यह गीत एक किसान व समाजसेवी एमएस मेवाड़ा ने लिखा है। जिसको गाया गांव की महिलाओं ने है। आपको बता दें कि पुराने दौर में भी त्योहारों पर अपने भाई को वीरा भाई का इंतजार करती महिलाएं भाइयों के लिए गीत गाया करती थी। और अपने भाइयों को गांव बुलाती थी।

इधर आपको बतादें कि यह गीत मुख्यतः प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उनकी धर्मपत्नी साधना सिंह और उनके बड़े पुत्र कार्तिकेय एवं छोटे कुणाल के ऊपर गाया गया है। वहीं इस गीत को समाज सेवी एम एस मेवाड़ा जिन्होंने ये गीत लिखा है वो काफी उत्साहित है। उनका मानना है जब से यह गीत सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तब से इस गीत को लेकर आमजन से अच्छी खासी प्रकिया आ रही है।

यह भी पढ़ें…आईएएस अधिकारी की facebook आई डी हैक, हैकर ने की अश्लील पोस्ट सेंड