अब सीएम के इलाके में हनुमान चालीसा पर बवाल, गृह मंत्री ने दिए जांच के आदेश

mp home minister

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। भोपाल के पास सीहोर में स्थित वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (वीआईटी यूनिवर्सिटी) के सात छात्रों पर हनुमान चालीसा पढ़ने के कारण 5-5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है। बीटेक सेकंड ईयर के ये छात्र कुछ दिन पूर्व हॉस्टल रूम में सामूहिक रूप से हनुमान चालीसा पढ़ रहे थे। इस मामलें को गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने गंभीरता से लेते हुए साफ कर दिया है कि छात्रों पर कोई जुर्माना नहीं लगाया जाएगा, प्रबंधन से बात हो गई है उन्हे समझाईश दे दी गई है, गृह मंत्री ने कहा कि छात्र अगर भारत में हनुमान चालीसा नहीं पढ़ेंगे तो फिर कहाँ पढ़ेंगे, फिलहाल इस मामलें में कलेक्टर को जांच के आदेश दिए गए है।

यह भी पढ़ें…. मध्यप्रदेश : गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीटर के CEO को लिखा पत्र

वही इस मामलें में बताया जा रहा है  कि हॉस्टल के रूम में करीब 20 छात्र एक साथ हनुमान चालीसा पढ़ रहे थे। मैनेजमेंट से इस मामले की शिकायत अन्य वर्ग के छात्रों ने की। इसके बाद शिकायत सही पाए जाने पर छात्रों की अगुवाई कर रहे 7 छात्रों पर जुर्माना लगाए जाने का नोटिस जारी किया गया। कालेज प्रबंधन के अनुसार रूम में व्यक्तिगत रूप से कोई पूजा-पाठ करता है तो कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन, सामूहिक रूप से बिना किसी अनुमति के इस तरह के आयोजन नहीं किए जा सकते, भले ही वह रूम के भीतर ही क्यों न हों। इस मामले में वार्डन से रिपोर्ट ली गई थी। इस मामले का छात्रों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। उनका आरोप है कि दूसरे वर्ग के जूनियर छात्रों ने मैनेजमेंट से इसकी शिकायत की थी और कहा था कि वे भी सामूहिक रूप से ऐसा करेंगे। इसके बाद कालेज प्रबंधन ने हनुमान चालीसा पढ़ने वाले 7 छात्रों पर 5-5 हजार का जुर्माना लगाया, लेकिन यह मामला गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा तक पहुंचा, खुद छात्रों ने और उनके अभिभावकों ने इस घटना की जानकारी फोन पर गृह मंत्री को दी, मामला सामने आने के बाद गृह मंत्री ने कालेज प्रबंधन को फटकार लगाई और जुर्माने का आदेश वापस लेने के लिए कहा, वही इस मामलें की जांच का जिम्मा सीहोर कलेक्टर को सौंपा गया है।