सोया चौपाल से हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी तक फोरलेन रोड निर्माण कार्य चार साल में भी नहीं हुआ पूरा

सीहोर। अनुराग शर्मा। 

बस स्टैंड से हाउसिंग बोर्ड रेलवे क्रॉसिंग के पास जगह-जगह से उखड़े पेवर ब्लाक। सीहोर। चार साल बीतने के बाद भी सोया चौपाल से हाउसिंग बोर्ड तक बनने वाले आठ कि मी फोनलेन का निर्माण पूरा नहीं हुआ है। इसके लिए करीब 45 करोड़ रुपए स्वीकृत हुए थे। यह मार्ग लोगों को परेशानी के साथ ही हादसों का कारण बना हुआ है। इतना ही नहीं इस समय शहरी क्षेत्र में सौदर्यीकरण के लिए जो पेवर ब्लाक लगाए जा रहे है, वह घटिया निर्माण के चलते लगते ही उखड़ रहे हैं, लेकि न यहां से निकलने वाले जिम्मेदारों को यह नजर नहीं आ रहा है। जबकि अभी ड्रेनेज, स्ट्रीटलाइट पोल सहित अन्य काम अभी भी बाकी है। इतना ही नहीं फंड का अभाव बताकर हर बाद निर्माण कार्य की म्याद तो बढ़ा दी जाती है, लेकि न इसकी गुणवत्ता व मनमानी पर कोई कार्‌रवाई नहीं होती है।

सोया चौपाल से हाउसिंग बोर्ड तक बनाए जा रहे मार्ग में करीब एक करोड़ रुपए की लगात से पेवर ब्लाक लगाए जा रहे है, लेकि न इसमें गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा जा रहा है। इंदौर नाके से हाउसिंग बोर्ड फाटक तक यह पेवर ब्लक लगने हैं, जो करीब 4 कि मी का क्षेत्र है, लेकि न इस फोरलेन में गंगाआश्रम सहित कई क्षेत्र ऐसे हैं, जहां ठेके दार ने फु टपाथ के लिए जगह ही नहीं छोड़ी। यही कारण है कि लोगों की सुगमता व शहर की सुदंरता के लिए बनाई गई यह सड़क लोगों को मुंह चिढ़ाती हुई नजर आ रही है। खास बात तो यह है कि जो पेवर ब्लाक भोपाल नाके से चाणक्यपुरी तक जगह छोड़-छोड़कर लगाए जा रहे हैं, वह गुणवत्ता की कमी के चलते लगते ही उखड़ना शुरु हो गए हैं। जिससे गुणवत्ता मानदंडों की असलियत उजागर हो रही है। इतना ही नहीं यहां आते-जाते अधिकारी इसे रोज देखते हैं, लेकि न न तो ठेके दार पर कार्‌रवाई हुई और न ही मरम्मत।

पेवर ब्लाक उखड़ने से पैदल चलना मुश्किल

भोपाल नाके से चाणक्यपुरी में एक तरफ पेवर ब्लाक लगाए जा रहे हैं, जो कई जगह उखड़ गए हैं। साथ ही गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखने से जामाए गए पेवर ब्लाक साइड छोड़ चुके हैं। ऐसे में सबसे अधिक परेशानी उन लोगों को हो रही है, जिनके प्रतिष्ठानों के सामने यह पेवर ब्लाक लगाए जा रह हैं। क्योंकि दुकानों तक अब वाहन भी नहीं पहुंच पा रहे हैं। इसके अलावा लोगों को इन पेवर ब्लाकों के कारण साईड में चलने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

चार साल से समस्या का सामना कर रहे लोग

सोया चौपाल से हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी तक रोड निर्माण कार्य चल रहा है, जिसे लेकर 4 साल से लोगों को परेशानी हो रही है। रोड निर्माण कार्य को लेकर अब वाहन चालक भी परेशान होने लगे हैं। कई जगह अधूरा निर्माण छोड़ दिया है, ड्रेनेज बनाने के लिए कहीं से भी काम शुरु कर सड़क से आवागमन रोक दिया जाता है। कई जगह नाली खुदी होने से लोगों को निकलने में परेशानी का सामना करना पड़ रा है। यही कारण है कि कई बार निर्माण को लेकर विवाद की स्थिति भी बनी और थाने से लेकर कलेक्टर तक से शिकायत की, लेकि न इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। इसके अलावा इस फोर लेने के निर्माण से लेकर अभी तक सैकड़ों हादसे हो चुके हैं। कई जगह डिवाइडर से तो कई जगह सड़क की साइड नहीं भरने से हादसे हो रहे है

गुणवत्ता पूर्ण काम नहीं है

मैंने चाणक्यपुरी के साई मंदिर जाते समय पेवर ब्लाक देखे हैं, जो जगह-जगह से उखड़ रहे हैं। इसमें गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा जा रहा है। यदि गुणवत्तापूर्ण काम नहीं कि या गया तो ठेके दार का भुगतान रुकवाया जाएगा।

सुदेश राय, विधायक, सीहोर


फिर से कराया जाएगा निर्माण

सोया चौपाल से हाउसिंग बोर्ड तक बन रही 8 कि मी की फोरलेन में शहरी क्षेत्र में सौंदर्यीकरण को ध्यान में रखते हुए पेवर ब्लाक लगाए जा रहे हैं। अभी तक इसकी राशि जारी नहीं की गई है। जहां भी पेवर ब्लाक उखड़े हुए हैं या घटिया काम कि या गया है, उसको फिर से कराया जाएगा

मुकेश निगम, ईई, पीडब्ल्यूडी