पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की FIR, कांग्रेस ने दी आंदोलन की चेतावनी

सीहोर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश सरकार में पीडब्ल्यूडी मंत्री रह चुके कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा के खिलाफ सीहोर जिले के गोपालपुर में मामला दर्ज किया गया है। दरअसल सज्जन सिंह वर्मा ने उस पुल का उद्घाटन कर दिया था जिसका उद्घाटन मुख्यमंत्री को करना था।

प्रदेश में लहराया ग्वालियर जिला पंचायत का परचम, योजनाओं के क्रियान्वयन में मिली उपलब्धि

बुधवार को प्रदेश के कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने बुधनी विधानसभा क्षेत्र के नसरुल्लागंज में एक ब्रिज का टेस्टिंग के पहले ही फीता काटकर लोकार्पण कर दिया था। यह ब्रिज सीप नदी पर बना हुआ है और इसके उद्घाटन के लिए मुख्यमंत्री से समय भी तय कर लिया गया था। इसी दौरान जब बुधवार को पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा उस स्थान से निकले तो उन्होंने लोगों से कहा कि यह पुल चालू क्यों नहीं तो बताया गया कि उसकी टेस्टिंग और उद्घाटन नहीं हुआ है, जिसके बाद उन्होंने वहीं पर उसका उद्घाटन कर दिया। इसके बाद गोपालपुर थाने की पुलिस ने सज्जन सिंह वर्मा सहित नौ अन्य लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली।

खुद पर एफआईआर दर्ज होने को सज्जन सिंह वर्मा ने बीजेपी सरकार की निरंकुशता का प्रतीक बताया है। उनका कहना है कि ब्रिज का उद्घाटन उन्होंने इसलिए किया कि लंबे समय से लोगों को आवागमन की परेशानी हो रही थी। अपने ऊपर एफआईआर दर्ज होने के बाद वर्मा ने चेतावनी दी है कि अब शिवराज सिंह चौहान के विधानसभा क्षेत्र बुधनी में कांग्रेस आंदोलन करेगी। इसके लिए शुक्रवार को राजधानी भोपाल में कांग्रेस रणनीति भी तय करेगी।