तहसील में खामियां देख भड़के राजस्व मंत्री, तहसीलदार निलंबित

revenue-minister-suspend-tehsildar

सीहोरअनुराग शर्मा।

मंगलवार को प्रदेश के राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत अचानक सीहोर तहसील पहुचे।मंत्री राजपूत के अचानक आने के कारण तहसील कार्यालय में अधिकारी और कर्मचारियों में अफरातफरी मच गई।इस दौरान मंत्री राजपूत ने तहसील कार्यालय में विभिन्न प्रकरणों से जुड़े मामलों की फाइलों को देखा,तो वह तहसीलदार की कार्यप्रणाली से असंतुष्ठ दिखे।निरीक्षण के दौरान तहसील कार्यालय के कामकाज पर असंतोष जाहिर करते हुए उन्होंने तहसीलदार सहित कुछ बाबुओं पर कार्यवाही केलिए कलेक्टर अजय गुप्ता को मौखिक निर्देश दिए ।

    प्रदेश के राजस्व मंत्री मंगलवार दोपहर जैसे ही अचानक मुख्यालय तहसील कार्यालय पहुचे तो वरिष्ठ अधिकारियों सहित राजस्व महकमा सकते में आ गया।निरीक्षण के दौरान मंत्री राजपूत ने तहसीलदार के कामकाज को लेकर असंतोष  जताया ।बताया जा रहा है कि राजस्व मंत्री को विभाग के समाधान पोर्टल पर  समस्यायों के समुचित निराकरण न होने की शिकायतें लगातार मिल रही थी।कार्यालय सूत्रों के मुताबिक सीमांकन प्रकरण ,शासकिय भूमि से कब्जे हटाने के मामले सहित राजस्व विभाग के पोर्टल पर करीब 850 शिकायते पेंडिंग पड़ी हुई थी।सभी मामलों में तहसीलदार की कार्यप्रणाली को लेकर लगातार शिकायते मिल रही थी।राजस्व मंत्री श्री सिंह ने शिकायतो को गंभीर मानते हुए निरीक्षण के दौरान मौजूद कलेक्टर अजय गुप्ता को तहसीलदार सहित तहसील के कुछेक बाबुओं पर कार्यवाही के लिए मौखिक निर्देश दिए है।निरीक्षण पर अचानक आये राजस्व मंत्री के इस आक्रामक रवैये से जिले के राजस्व महकमे में चिंता उमड़ पड़ी।