शिवराज ने कहा- “आपके दुख दूर करने के लिए ही फिर बना हूं मुख्यमंत्री”

सीहोर, अनुराग शर्मा। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को जिले के बाढ़ग्रस्त इलाके सोमलबाडा-शाहंगज का दौरा किया और नागरिकों से बाढ़ आपदा शिविर में संवाद किया। इस दौरान उन्होने कहा कि मैंने जब मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तो #COVID19 का संकट आ गया था। उसके बाद ही प्रदेश में बाढ़ का संकट आ गया। परमात्मा को यह लगा कि संकट आने वाला है इसलिए हमारी सरकार बनी जिससे जनता की बेहतर से बेहतर सेवा हो सके।

सीएम शिवराज ने कहा कि हमने दिन और रात एक करके कंट्रोल रूम बनाकर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति पर नजर रखी हुई है। अधिकारी, जनप्रतिनिधि और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक राहतकार्य में डट गए हैं। नर्मदा मैया की कृपा से जो लोग फँस गए थे, उन्हें हमने सफलतापूर्वक बाहर निकाल लिया। हमने जान बचा ली है, अब जहान भी बचाना है। यह भारतीय जनता पार्टी की सरकार है। सरकार के पास पैसे नहीं है लेकिन इसकी चिंता मुझे नहीं है। पैसे मैं कहीं से भी लाऊंगा। जितने भी लोगों का नुकसान हुआ है, उन्हें मुआवज़ा दूंगा, किसानों को भी उनके नुकसान की भरपाई करूंगा। सीएम ने कहा कि यह सही बात है कि मध्यप्रदेश सरकार का खजाना खाली है लेकिन आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं हैं। आप के साथ आपका मामा खड़ा है, 14 जिले बाढ़ से प्रभावित है सबका ध्यान रखना और सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में सभी को आधा-आधा क्विंटल गेहूं और पांच 5 लीटर केरोसिन दिया जाए।