फौजी ने सुनाई छात्राओं को 71 की जंग की हकीकत

सीहेार। सेवानिवृत फौजी ने छात्राओं को सन 1971 में पाकिस्तान से हुई जंग में थलसेना वायूसेना और जलसेना के द्वारा दिखाई गई वीरता की आंखों देखी हकीकत सुनाई। महारानी लक्ष्मीबाई हायरसेकेंड़ी स्कूल में विजय दिवस मनाया गया।

सोमवार को आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय सेना में अपनी सेवा पूरी कर लौटे फौजी मनोज यादव रहे। स्कूल परिसर में स्थित वीर शहीद मरदानिया की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। मुख्य अतिथि श्री यादव का वरिष्ठ शिक्षक शिक्षिकाओं के द्वारा श्री फल और पुष्प मालाओं से सम्मान किया गया।

कार्यक्रम में छात्राओं को संबोधित करते हुए सेवानिवृत फौजी श्री यादव ने कहा की 71 के युद्ध में पाकिस्तान के सपोर्ट में दुनिया के 70 देश थे हम केवल पाक से हीं नहीं उन शक्तिशाली 70 देशो से भी युद्ध लड़ रह थे। भारत का सहयोग उस वक्त भी केवल रूस ने हीं किया था 16 दिसंबर वहीं दिन है जिस दिन पाक  के सेना प्रमुख ने तीन हजार वीर भारतीय सैनिकों के सामने अपने 93 हजार सैनिक के साथ आत्म समर्पण कर दिया था। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ शिक्षक अनिरूद्ध शर्मा के द्वारा किया गया। आभार वरिष्ठ शिक्षिका सीमा ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में छात्राएं और स्कूल के शिक्षक शिक्षिकाएं सम्मिलित रहीं।