तहसीलदार व पटवारी हुए लापता, परिजनों ने थाने में दर्ज कराई गुमशुदगी की रिपोर्ट

मंडी थाना पुलिस सर्चिंग में जुटी हुई है।

सीहोर,अनुराग शर्मा। मध्यप्रदेश में लगातार हो रही बारिश के चलते नर्मदा, चंबल, बेतवा, ताप्ती, शिप्रा उफान पर आ गई हैं, कई मार्गों से संपर्क टूट गया है, कई गांव बाढ़ की चपेट में आ गए है। ऐसा ही मामला मध्यप्रदेश के सीहोर (Sehore) जिले से आ रही है जहाँ तहसीलदार और पटवारी बीती रात अपने घर से खाना खाने जाने की कहकर कहीं चले गए, जब वह सुबह तक नहीं लौटे तो परिजनों ने मंडी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामले में FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़े…19 साल के कर्मचारी की कार में दबकर हुई मौत, पढ़े पूरी खबर

बता दें कि मंडी थाने में मंगलवार सुबह शाजापुर जिले की तहसील मोहनपुर बढ़ोदिया में पदस्थ तहसीलदार नरेन्द्र सिंह ठाकुर और जिले की नसरुल्लागंज तहसील में पदस्थ पटवारी महेन्द्र रजक लापता हैं। तहसीलदार नरेंद्र ठाकुर सीहोर के शुगर फैक्टरी चौराहे पर निवास करते है, वह वर्तमान में वह मध्य प्रदेश राजस्व संघ के अध्यक्ष भी है।

यह भी पढ़े…यहां पढ़िए 16 अगस्त की मध्य प्रदेश की सभी बड़ी खबरें, केवल एक क्लिक पर

तहसीलदार नरेन्द्र सिंह ठाकुर के बेटे पुष्पेन्द्र सिंह ठाकुर ने पुलिस को सूचना दी। बताया कि सोमवार की रात को तहसीलदार और पटवारी अपने दोस्त महेन्द्र शर्मा एवं राहुल आर्य के साथ पार्टी करने रफीकगंज स्थित दोस्त तरुण सिंह के फार्म हाउस पर गए थे। तहसीलदार और पटवारी एक कार में सवार जो अभी तक नहीं लौटे हैं, मंडी थाना पुलिस सर्चिंग में जुटी हुई है।

यह भी पढ़े…गरीबों के हक पर डाका डाल रहा सेल्समैन, शिकायत के बावजूद अधिकारी मौन

गौरतलब है कि लापता तहसीलदार ओर पटवारी की तलाश नगर के कर्बला पुल के समीप की जा रही है मौके पर राजस्व विभाग पुलिस विभाग और sdrf की टीम दोनों लापता की तलाश कर रही है पुलिस को शक है कि इनकी कार सीवान नदी के कर्बला पुल से नीचे गिर गई होगी इस तलाशी में पुलिस मोबाइल लोकेशन को आधार बनाकर कर रही है। पुलिस दल मामले में सर्चिंग कर रहा है।