सीहोर में यूरिया का गहराया संकट, घंटों लाइन में लगकर भी नहीं मिल रहा खाद

सीहोर। अनुराग शर्मा। 

मध्यप्रदेश सरकार भले ही किसानों को यूरिया उपलब्ध कराने का वादा कर रही हो, लेकिन हालात अभी सुधरे नहीं है. सीहोर जिले में खाद का संकट दूसरे जिलों की अपेक्षा बढ़ता जा रहा है. हालात तो ये हो गए हैं कि खाद वितरण केंद्रों पर सुबह से ही किसानों की लंबी-लंबी कतारें लग जाती है. बाबजूद इसके कुछ किसानों को बेरंग होकर लौटना पड़ रहा है. लाइन में खड़े किसानों का कहना है कि तीन दिन से कतारों में लगने के बाद भी यूरिया नहीं मिल रहा है.सीहोर में यूरिया संकटपुलिस के साए में बंट रहा यूरिया 

कृषि उपज मंडी स्थित एमपी एग्रो सेंटर पर सूरज की किरण के साथ ही पुरूष-महिलाएं आकर लंबी-लंबी लाइन में लग जाते हैं. उन्हें उम्मीद होती है कि आज तो यूरिया खाद मिल जाएगा लेकिन खाली हाथ ही घर जाना पड़ रहा है. सीहोर जिले में जो खाद आ रहा है, डिमांड इतनी ज्यादा है तक तत्काल खाली हो रहा है. वहीं किसानों की भीड़ देखकर पुलिस के साए में यूरिया वितरण हो रहा है.चार दिन से नहीं मिला यूरिया यूरिया के लिए लाइन में लगी नन्नीबाई महिला बताती हैं कि चार दिन से रोज आ रहे हैं, लेकिन खाद नहीं मिल रहा है. केंद्र वाले बोलते है खाद खत्म हो गया है.अफसर कह रहे यूरिया बराबर मिल रहा वहीं अफसर कह रहे हैं कि किसानों को लगातार यूरिया मिल रहा है. इस साल बारिश ज्यादा होने के चलते बोवनी ज्यादा हुई है.सोसायटी के केंद्रों पर किसान डिफाल्टर हो गए इसलिए यहां किसानों की ज्यादा भीड़ हो रही है.