घर में लटका मिला महिला सब इंस्पेक्टर का शव, मचा हड़कंप, 4 दिन पहली ही हुई थी पोस्टिंग

seoni-leady-sub-inspector-dead-body-found-in-house-in-seoni

सिवनी।

मध्यप्रदेश के सिवनी जिले उस वक्त हड़कंप मच गया जब  कोतवाली थाने में पदस्थ महिला सब इंस्पेक्टर का शव घर में लटका हुआ मिला।सूचना मिलते ही जिलेभर में सनसनी फैल गई।बताया जा रहा है महिला इंस्पेक्टर की चार दिन पहले ही पोस्टिंग कोतवाली थाने में हुई थी औऱ दो दिन से वो ड्यूटी पर भी नही आई थी।मौत के कारणों का अभी तक कुछ पता नही चल पाया है।फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।हालांकि प्रारंभिक जांच में बॉथरुम में पैर फिसलकर मौत हो जाने की बात सामने आ रही है।

               मिली जानकारी के अनुसार, एसआई सोनिया राजपूत की चार दिन पहले ही कोतवानी थाने में पोस्टिंग हुई थी। वे अपने पति के साथ सिवनी के खैरी टेक इलाके में एक किराये के मकान रहने आई थी। पति कुछ काम से छिंदवाड़ा गया था और उसने जब सोनिया को फोन किया तो उसने नही उठाया , पति लगातार दो दिन तक फोन करता रहा लेकिन पत्नी ने नही उठाया। इसके बाद वह खुद सोमवार शाम घर लौटा तो उसने दवाराजा खटखटाया, बहुत देर तक सोनिया के दरवाजा नहीं खोलने पर उनसे दरवाजा तोड़ दिया और अंदर पहुंचा तो देखा की सोनिया बॉथरुम में मृत पड़ी हुई थी।  इस पर उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का मौका मुआयना करने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।  सोनिया का यह शव दो दिन पुराना बताया जा रहा है। साथ ही सोनिया दो दिन से थाने पर भी नही पहुंची थी। सोनिया के पास से कोई सुसाइड नोट नही मिला है, जिससे आत्महत्या की पुष्ठी हो सके। एसआई की मौत कैसे हुई है और कब हुई, फिलहाल पुलिस इसकी जांच कर रही है।

पड़ोसियों के अनुसार एसआई सोनिया घर में अक्सर लोवर व टी-शर्ट में रहती थी। उनका शव भी उसी ड्रेस में मिला है। उनके पैर में बीमारी थी, जिससे उनका पैर सून हो जाता था। इसकी चर्चा पति-पत्नी ने पड़ोसियों से की थी। वह पति के साथ मंगलवार को पैर का उपचार कराने भोपाल जाने वाले थी। इसबीच उनका शव घर में मिला है।वही घटना के बाद पुलिस ने घर में ताला लगा दिया है। पुलिस के अनुसार इस घटना की सूचना उच्चाधिकारियों और मृतका के माता-पिता को दे दी गई है। अन्य उच्चाधिकारियों के साथ ही मृतका के माता-पिता के आने और घर का निरीक्षण करने के बाद ताला खोल दिया जाएगा।