इस मेडिकल कॉलेज का नाम जनरल बिपिन रावत के नाम पर रखने की मांग

पत्र में डॉक्टर ओहरी ने उल्लेख किया है कि स्वर्गीय बिपिन रावत जी का संबंध मध्यप्रदेश के शहडोल से रहा है और उनकी पत्नी श्रीमती मधुलिका मध्य प्रदेश की बेटी होने के साथ-साथ शहडोल के सोहागपुर की रहने वाली थी।

शहडोल डेस्क रिपोर्ट। जयस के संस्थापक सदस्य डॉ अभय ओहरी ने शहडोल के मेडिकल कॉलेज का नाम सीडीएस के पूर्व प्रमुख स्वर्गीय बिपिन रावत के नाम पर रखने की मांग की है। उन्होंने इस बारे में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र भी लिखा है। जयेश यानि जय आदिवासी युवा शक्ति के संस्थापक सदस्य व संरक्षक और रतलाम के पूर्व टीबी अधिकारी डॉ अभय ओहरी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने शहडोल में नवनिर्मित मेडिकल कॉलेज का नाम भारतीय सेना के पूर्व चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ स्वर्गीय बिपिन रावत के नाम पर करने की मांग की है। पत्र में डॉक्टर ओहरी ने उल्लेख किया है कि स्वर्गीय बिपिन रावत जी का संबंध मध्यप्रदेश के शहडोल से रहा है और उनकी पत्नी श्रीमती मधुलिका मध्य प्रदेश की बेटी होने के साथ-साथ शहडोल के सोहागपुर की रहने वाली थी। डॉक्टर ओहरी का कहना है कि यदि इस कॉलेज का नाम स्वर्गीय बिपिन रावत के नाम पर रखा जाता है तो यह उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

इस मेडिकल कॉलेज का नाम जनरल बिपिन रावत के नाम पर रखने की मांग

यह भी पढ़ें…अभिनेता सैफ और शर्मिला टैगोर को मध्यप्रदेश हाईकोर्ट से राहत, देखिए क्या है मामला

उल्लेखनीय है कि स्व.बिपिन रावत की पत्नी स्व.मधुलिका रावत डिफेन्स वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन की अध्यक्ष थीं और वह मध्य प्रदेश के शहडोल जिले की सोहागपुर रियासत की बेटी थीं। उनके पिता कुंवर मृगेंद्र सिंह सोहागपुर गढ़ी के इलाकेदार हुआ करते थे। वह कोतमा विधानसभा सीट से दो बार कांग्रेस के विधायक भी रहे हैं।