शहडोल में पदस्थ उपपंजीयक को एक लाख की रिश्वत लेते EOW रीवा ने पकड़ा

शहडोल, डेस्क रिपोर्ट। शहडोल में पदस्थ उपपंजीयक जय सिंह सिकरवार को एक लाख रुपए रिश्वत लेते हुए EOW  रीवा की टीम ने मंगलवार की शाम रंगेहाथ पकड़ा है। जय सिंह सिकरवार रजिस्ट्री की कापी देने के बदले अपने अधीनस्थ कर्मचारी दिवाकर द्विवेदी के माध्यम से रिश्वत मांगी थी।

यह भी पढ़ें…. अंगूर के जूस के फायदे जान आप हो जाएंगे हैरान, बालों के ग्रोथ में भी आता है काम

बताया जा रहा है कि आवेदक राजेश मिश्रा ने शिकायत की थी कि उप-पंजीयक रजिस्ट्री की कापी के बदले एक लाख रुपये रिश्वत मांग रहे हैं। जिसके बाद आवेदक राजेश मिश्रा ने तमाम सबूतों के आधार पर टीम गठित की, इसके बाद मंगलवार को कार्यालयीन समय पर उपपंजीयक कार्यालय में जैसे ही आवेदक ने रिश्वत के रंगे नोट उप पंजीयक के अधीनस्थ कर्मचारी दिवाकर द्विवेदी को पकड़ाए तभी मौके पर मौजूद टीम ने उन्हे रंगे हाथों पकड़ लिया। हालांकि इस दौरान पकड़े गए दिवाकर द्विवेदी ने खुद को बेकसूर बताना शुरू कर दिया, लेकिन रंगे हाथों पकड़े जाने की हुई इस कार्रवाई में बाद में आरोपी शांत हो गए।  ईओडब्ल्यू की कार्रवाई से उप पंजीयक कार्यालय में हड़कंप मच गया, नोटो की गिनती कराने के बाद वैधानिक प्रक्रिया से पुष्टि कराई गई। उपपंजीयक के अधीनस्थ कर्मचारी दिवाकर द्विवेदी के हाथ से पैसा जब्त किया और जिन रजिस्ट्री के बदले रिश्वत ली जा रही थी, उनके दस्तावेज उप पंजीयक के पास से जब्त किए गए है। कार्यवाही शहडोल के सोहागपुर तहसील परिसर मेें स्थिति पंजीयक कार्यालय में की गई है।