घोड़ी के साथ दो युवकों ने किया अप्राकृतिक कृत्य, घोड़ी की मौत, एक आरोपी गिरफ्तार

शहडोल, ब्यूरो रिपोर्ट। शहडोल जिले में एक पालतू घोड़ी के साथ अप्राकृतिक कृत्य का मामला सामने आया है। इस घटना को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है। दो युवकों द्वारा किये गए इस कुकृत्य के दौरान गले में रस्सी फंसने से घोड़ी की मौत हो गई। घटना के बाद पुलिस ने एक आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दूसरा फरार है।

दरअसल, शहडोल जिले के अमलाई थाना क्षेत्र के अंतर्गत बटुरा ग्राम में रहने वाली ननबैय्या वासुदेव की पालतू घोड़ी के साथ पड़ोस में रहने वाले पंकज वासुदेव और उसके साथी लोकनाथ वासुदेव ने अप्राकृतिक कृत्य किया। दोनों दोस्तों ने मिलकर घर के पीछे बंधी घोड़ी के पैर और गले में रस्सी बांधकर ये काम किया। इस दौरान घोड़ी के गले में बंधी रस्सी के दबाव के चलते घोड़ी की मौत हो गई। इस बीच किसी काम से घोड़ी की मालकिन ननबैय्या बाई घर के बाहर निकली तो देखा कि उनकी घोड़ी के साथ लोकनाथ गलत कृत्य कर रहा है और पंकज घोड़ी के गले में रस्सी का फंदा डाल कर पकड़ा हुआ है।

उसके द्वारा शोर मचाने पर दोनों आरोपी मौके से भाग निकले। जब लोगो ने मौके पर जाकर देखा तो घोड़ी मरी पड़ी हुई थी। घोड़ी के गले मे बंधी रस्सी के खिंचाव से उसकी मौत हो गई। इस पूरे मामले की शिकायत अमलाई थाने में की गई जिसके बाद पुलिस ने धारा 377, 429,34,11/12 पशु क्रूरता अधिनयम के तहत मामला कायम कर पंकज को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले का दूसरा आरोपी लोकनाथ फरार है जिसकी अमलाई पुलिस तलाश कर रही है। मामले के विवेचक एएसआई सुंदर लाल तिवारी ने कहा कि एक आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है।