कोरोना के खिलाफ जंग में निजी दुख भुलाया, शवयात्रा रोककर दस मिनिट बजाई ताली

शाजापुर। कोरोना वायरस को रोकने के लिये 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दौरान पीएम मोदी ने डाक्टर, सफाईकर्मी तथा अन्य आवश्यक सेवा देने वालों का आभार प्रदर्शन करने की अपील की थी। शाजापुर में इस दौरान एक अलग ही दृश्य देखने को मिला।

शाजापुर जिले के शुजालपुर में 80 साल के गौरीशंकर नेमा का रविवार को निधन हो गया, शाम 5:00 बजे शव यात्रा शुरू होते ही परिजनों व शहर के लोगों ने बीच सड़क पर शव को रखकर उसके आसपास खड़े होकर करीब दस मिनिट तक ताली बजाई। इसके बाद शव यात्रा फिर शुरू हुई। खास बात ये कि सभी लोग कोरोना वायरस से बचाव के निर्देशों का पालन करते हुए 1 मीटर की दूरी बनाकर बनाकर शव यात्रा में शामिल हुए थे और अधिकांश लोगों ने मास्क भी पहन रखे थे।