कांग्रेसी विधायक पर भड़के बीजेपी विधायक, बोले- “24 घंटे गांजे के नशे में रहता है”

श्योपुर, डेस्क रिपोर्ट। विजयपुर से बीजेपी के विधायक सीताराम आदिवासी ने श्योपुर से कांग्रेस विधायक बाबूलाल जंडेल पर निशाना साधा है। दरअसल आदिवासी समाज को लेकर की गई जंडेल की टिप्पणी से सीताराम इस कदर आहत हुए कि उन्होंने कांग्रेसी विधायक को ही नशाखोर बता दिया।

जीवित व्यक्तियों को मृत बताकर योजना के तहत निकाले पैसे, मंत्री ने दिए जांच के आदेश

राजनीति में शब्दों की मर्यादा तार तार हो रही है। इसका ताजा उदाहरण श्योपुर जिले में देखने को मिला। दरअसल 20 अगस्त को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की उपस्थिति में श्योपुर में कांग्रेस के विधायक बाबूलाल जंडेल ने बाढ़ से पीड़ित आदिवासियों को नगद राशि न दिए जाने की बात कही थी और कहा था कि यदि नगद राशि दी जाएगी तो आदिवासी इस राशि की शराब पी जाएंगे। उस समय बाबूलाल जंडेल के इस बयान की काफी आलोचना भी हुई थी। लेकिन अब बीजेपी के श्योपुर जिले के ही विजयपुर से विधायक सीताराम आदिवासी ने खुद बाबूलाल जंडेल को नशाखोर बता दिया है। उनका कहना है कि बाबूलाल 24 घंटे गांजे के नशे में रहते हैं और खुद कहते हैं कि गांजे की दम पर ही वह चुनाव जीते हैं। हजारों लड़कों का जीवन उन्होंने गांजा पिला पिलाकर बर्बाद कर दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने बाबूलाल के ऊपर यह भी आरोप लगाया कि वे शराब भी पीते हैं। सीताराम ने यह भी कहा कि शराब पीने में क्या बुराई है, सातों जात शराब पीती हैं। आदिवासियों को बेवजह बदनाम किया जा रहा है।

इसके पहले बीजेपी के विधायक रह चुके ब्रजराज सिंह चौहान ने भी जंडेल के बयान को लेकर उन पर निशाना साधा था और कहा था कि जब से भी विधायक बने हैं क्षेत्र में नशे का कारोबार बढ़ गया है और युवा इसकी लत में पड रहे हैं। विधायक जंडेल का नशा कारोबारियों को खुला संरक्षण हैं और जब भी उनके ऊपर कोई कार्रवाई होती है वह उन्हें बचाने के लिए खड़े हो जाते हैं।