Sheopur News : रेत माफिया की दबंगई तहसीलदार की गाड़ी पर किया पत्थरों से हमला

इस तरह की घटनाओं से यह स्पष्ट रूप से मालूम होता है कि रेत माफिया खुद को मुख्यमंत्री और सरकार दोनों से ऊपर मानते हैं।

श्योपुर, डेस्क रिपोर्ट । मध्यप्रदेश में रेत माफियाओं के हौसले इस तरह बुलंद है कि उन्हें ना तो शासन का डर बचा है ना ही प्रशासन का। सरकार के मुखिया शिवराज सिंह चौहान लगातार रेत माफियाओं पर लगाम कसने की बात कहते रहें हैं। पर इस तरह की घटनाओं से यह स्पष्ट रूप से मालूम होता है कि रेत माफिया खुद को मुख्यमंत्री और सरकार दोनों से ऊपर मानते हैं।

यह भी पढ़ें…UPSC CSE Mains Exam 2021: उम्मीदवारों के लिए राहत भरी खबर, एडमिट कार्ड जारी, यहां करें डाउनलोड

चाहे बात हो ग्वालियर जिले की या भिंड जिले की सभी जगह अवैध रेत का धंधा पूरे चरम पर चल रहा है। इन जिलों में घटनाओं के बाद ताजा मामला सामने आया है श्योपुर जिले का, जहां अवैध रेत को पकड़ने गए तहसीलदार की गाड़ी पर रेत माफियाओं ने पत्थर से हमला कर दिया और गाड़ी को नुकसान पहुंचाया। तहसीलदार और उनके अन्य साथी जैसे तैसे अपनी जान बचाकर वहां से भागे।

यह भी पढ़ें…MP Corona: कोरोना की रफ्तार तेज, आज मिले 18 पॉजिटिव, इंदौर-भोपाल में बढ़े केस

जानकारी के मुताबिक श्योपुर जिले की विजयपुर तहसील के तहसीलदार सीताराम वर्मा को रेत के अवैध परिवहन की जानकारी मिली। जानकारी मिलते ही वर्मा अपनी टीम के साथ ट्रैक्टर को पकड़ने के लिए अपनी टीम के साथ निकले। जब वर्मा ने तहसील पर ट्रैक्टर चालक से ट्रैक्टर को रोकने की बात कही तो उसने स्पीड और बढ़ा दी और ट्रैक्टर सीधा गढ़ी क्षेत्र में ले गया। ट्रैक्टर का पीछा करते हुए तहसीलदार वर्मा भी गढ़ी क्षेत्र में पहुंचे जहां पर रेत माफियाओं ने उनकी सरकारी गाड़ी पर पत्थरों से हमला बोल दिया। हमले से वर्मा और उनके साथी जैसे तैसे जान बचाकर निकले। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की शिनाख्त चालू कर दी है।