श्योपुर तहसीलदार ने सोशल मीडिया पर नायब तहसीलदारों को बताया भ्रष्ट

tehsildar-wrote-post-on-Facebook-viral

श्योपुर। मध्य प्रदेश के श्योपुर तहसीलदार अमिता सिंह एक बार फिर चर्चा में हैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक लंबी चौड़ी पोस्ट लिख कर तहलका मचा दिया। इस पोस्ट में उन्होंने नायब तहसीलदारों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने 9 अगस्त को एक पोस्ट लिखी थी। इसका शीर्षक उन्होंने दिया था ‘चाटुकारिता और भ्रष्टाचार बनाम शासकीय सेवा’ इसमें उन्होंने नायब तहसीलदारों को भ्रष्ट करार दिया है। 

अपनी पोस्ट में तहसीदार अमिता सिंह ने कई चौंकाने वाली बाते लिखी हैं। नायब तहसीलदार के अलावा उन्होंने कलेक्टर पर भी निशाना साधा है। उन्होंने सरकार तंत्र को भी सड़ा हुआ बता दिया। उन्होंने लिखा है कि अब तो प्रशासनिक अकादमी में ही भ्रष्टाचार व चाटुकारिता की ट्रेनिंग दी जा रही है।  हमारे केडर की बात करें मेरे एक साथी तहसीलदार पर लोकायुक्त के 59 केस दर्ज हैं पर वो सदा मुख्यालय तहसीलदार के पद पर ही सुशोभित रहते हैं । सारे नियम दरकीनार क्योंकि सबसे बड़ा गुण वरिष्ठ अधिकारियों की चाटुकारिता और भ्रष्टाचार में निपुणता उनके सारे दुर्गुनो पर भारी पड़ती है ! हम लोगों ने अकादमी में जो ट्रेनिंग की थी वो विभागीय परीक्षा के लिए और काम करने की क्षमता बढ़ाने के लिए की थी पर पिछले २-३ नायब तहसीलदारों के बैच को अपने साथ काम करते देख कर लगता है कि अकादमी में अब कार्य के प्रति निष्ठा और अनुशासन की ट्रेनिंग नहीं चाटुकारि���ा और भ्रष्टाचार की ट्रेनिंग दी जा रही है , हम वरिष्ठ तहसीलदारों को परे हटाकर इन नव नियुक्त साहबानो को मुख्यालय तहसीलदार के पद पर नवाज़ा जा रहा है।