शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। मंगलवार को करैरा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (Karera Community Health Center) पर कोविड मरीज का इलाज कर रहे कोविड प्रभारी डा देवेन्द्र खरे सहित अन्य डॉक्टरों पर मरीज के अटेंडरों ने हमला कर मारपीट की घटना को अंजाम दिया। वर्तमान में करैरा अस्पताल में पदस्थ समस्त स्टाफ महामारी के समय यहां एक और मरीजों की जान बचाने में दिन रात एक कर रहा है। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरा में कैद हो गई है। करैरा पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें:-मुरैना : जिला अस्पताल में प्रसव के दौरान दिया जाता है जहर का इंजेक्शन, फैलाई जा रही अफवाह

डॉक्टरों ने बताया कि कोविड वार्ड में मरीजों के परिजन बिना वजह बार-बार आ जा रहे हैं।ऐसे में एक मरीज के परिजन को मना डॉक्टरों के लिए बहुत भारी पड़ गया। परिजनों ने तीन डॉक्टरों के साथ सबके सामने मारपीट कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस के सामने भी मारपीट नहीं रुकी। पुलिस के सामने ही डॉक्टरों की पिटाई की जा रही थी। जिसके बाद बीएमओ और तीनों डॉक्टर पुलिस थाने पहुंचे और टीआई अमित भदौरिया को लिखित आवेदन दिया। पुलिस ने संबंधित परिजनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें:-अपनी ही शादी से फरार हुआ दूल्हा, बाराती बनकर आए युवक से हुई दुल्हन की शादी

डॉक्टर देवेंद्र खरे, डॉ अंकित बजोरिया, डॉ अखिलेश शर्मा, डॉ बीके रावत करैरा थाने में आवेदन दिया। जिसमें बताया गया है कि शासकीय कार्य बाधा उत्पन्न की फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। डॉक्टरों का कहना है कि ऐसे गंदे माहौल में कौन काम करेगा।। वहीं मरीज के परिजनों का आरोप है कि डॉक्टरों द्वारा इलाज में लापरवाही की गई है।