बेटी सम्मान समारोह में मंत्री बोलीं, ‘ कम पढ़ पाईं तो फिक्र मत करना, इमरती देवी तो बन ही जाओगी ‘

भोपाल। मध्य प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी अपने बयानों के लेकर अकसर चर्ता में बनी रहती है। इक बार फिर उन्होंने बेटी सम्मान समारोह में ऐसा कुछ कहा जिस वजह से ह सुर्खियों में बन गईं हैं।  बेटी सम्मान समारोह में शामिल होने मंत्री शिवपुरी पहुंचीं थीं। इस दौरान उन्होंने बेटियों को खूब पढ़ाने और आगे बढ़ाने की बात कही। लेकिन वह यह भी कह गईं कि अगर कोई बेटी कम पढ़ पाई तो फिक्र न करे क्योंकि वह इमरती देवी तो बन ही जाएगी। बता दें इमरती देवी अपनी शिक्षा को लेकर चर्चा में रहती हैं। 

उन्होंने कहा कि,  50 फीसदी महिला आरक्षण है, लेकिन आज भी पंचायत, जनपद और जिला पंचायत सहित अन्य चुनावों में महिला आरक्षित सीटों पर महिलाओं को सिर्फ घूंघट में फार्म भरने तक सीमित रखा जाता है, जबकि वोट मांगने से लेकर बैठकों में उनके पति या परिजन पहुंचते हैं। मंत्री ने मौजूद महिलाओं को चेताते हुए कहा कि अपने अधिकारों को पहचानो। यदि फार्म भरने आप जा रही हैं तो निर्वाचित होने के बाद दायित्व का निर्वहन भी खुद करें। यदि पति, ससुर या परिजन टोंकें तो उनसे कहो बहुत हो गया, अब मैं तो अपने दायित्व का निर्वहन करूंगी, तुम घर बैठो।

अगर आप घूंघट में बैठी रही तो न तो खुद बढ़ पाओगी और न ही अपने बेटियों को आगे बढ़ा पाओगी। मंत्री ने कहा कि पुरानी कहावत है कि बेटा से बेटी भली, होए कुलवंती नार, और नाम लिवावे माई बाप को तो देश बढाही होय। कार्यक्रम को पोहरी विधायक सुरेश रांठखेड़ा ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में कलेक्टर अनुग्रहा पी, जिला पंचायत अध्यक्ष कमला यादव सहित कांग्रेस नेता व अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।