पुलिस ने किया हत्या का खुलासा, प्यार में रोकटोक पड़ी भारी, आरोपी गिरफ्तार

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। शिवपुरी जिले के पिछोर अनुविभाग के बामोरकलां थाना अंतर्गत में हुई हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने किशोर की हत्या के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।  हत्या के पीछे पुलिस ने जो वजह बताई है वो बेहद चौंकाने वाली है। पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले दो युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 8 अगस्त को बामौरकलां पुलिस को सूचना मिली कि बामौरलां से कालीपहाड़ी के बीच छांद नहर किनारे एक लाश पड़ी हुई है। पुलिस मौके पर पहुंची और लाश की शिनाक्त बली सिंह के रूप में हुई।  पुलिस ने शुरूआती जाँच और साक्ष्य के आधार पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया।

ये भी पढ़ें – Gwalior News : लापरवाह पटवारी पर गिरी गाज, कलेक्टर के निर्देश पर निलंबित

घटना को चुनौती के रूप में लेकर थाना प्रभारी बामौरकलां नीरज राणा एवं उनकी टीम द्वारा अज्ञात आरोपियों की तलाश शुरू कर दी । शनिवार को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर से आरोपीगण छोटू ऊर्फ दीपेन्द्र पुत्र इमरत सिंह चौहान उम्र 19 साल निवासी ग्राम सुलारकलां हाल पटपरा मोहल्ला बामौरकलां एवं गोलू सोनी ऊर्फ निखिल सोनी पुत्र आनन्द सोनी उम्र 19 साल निवासी पटेरिया मोहल्ला बामौरकलां को गिरफ्तार किया।  पुलिस ने आरोपीगणों से मृतक का मोबाइल,  आरोपियों द्वारा पहने हुये कपड़े जिन पर खून के निशान है को जब्त किया एवं घटना में प्रयुक्त काले रंग की पल्सर को भी जब्त किया।

ये भी पढ़ें – प्रभारी मंत्री के दौरे से बढ़ी अफसरों की धड़कन, कहीं सड़कों के गड्ढे न दे दें “जोर का झटका”

आरोपियों ने पूछताछ में यह भी बताया कि छोटू राजा ऊर्फ दीपेन्द्र चौहान से जिम में मृतक बली सिंह का विवाद हुआ था एवं मृतक बली सिंह , गोलू ऊर्फ निखिल का प्रेम प्रसंग रोकने के कारण से दोनों आरोपियों द्वारा योजनाबद्ध तरीके से मृतक बली सिंह को बुलाकर मिटू कुशवाह के खेत के पास आरोपी छोटू ऊर्फ दीपेन्द्र चौहान ने मृतक से बात की उसी दौरान गोलू उर्फ निखिल सोनी ने पीछे से गर्दन दबा दी। जिससे वो बेहोश हो गया तब आरोपियों द्वारा करीब 15 से 20 किलो बजनी पत्थर से सिर पर चोट पहुंचाकर उसकी हत्या कर दी।

ये भी पढ़ें – MP Politics: VD Sharma ने की BJP प्रदेश कार्यसमिति सदस्यों की घोषणा, इनको मिली जगह

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी नीरज राणा एवं उनकी टीम सहायक उप निरिक्षक डीडी शर्मा थाना मायापुर , सहायक उप निरिक्षक रंगलाल मेर, सहायक उप निरिक्षक प्रताप सिंह गुर्जर , प्रधान आरक्षक गजेन्द्र सिंह, प्रधान आरक्षक रघुवीर पाल, आरक्षक रामनाथ रावत, आरक्षक शंकर भांवर, आरक्षक शकील खान, आरक्षक सुनील कुमार, आरक्षक ओमप्रकाश राठौर , आरक्षक रामदीन, आरक्षक मोहित शर्मा व सायबर टीम की भूमिका सराहनीय रही है ।