शिवपुरी: बाजार में हंगामा और गाली गलौज महंगी पड़ी, भौंती थाने के टीआई सस्पेंड

थाना प्रभारी ने सड़क पर खड़े होकर जमकर दी गालियां, व्यापारियों का भड़का आक्रोश , वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने थाना प्रभारी को किया सस्पेंड

शिवपुरी, मोनू प्रधान|  जिले के भौंती थाना क्षेत्र के थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह सिकरवार को सड़क पर हंगामा करना और व्यापारियों को गालिया देने महंगा पड़ गया| पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने वीडियो वायरल होने के बाद सुरेंद्र सिंह सिकरवार को तत्काल निलंबित कर लाइन अटैच कर दिया है|

दरअसल, रविवार शाम को भौती थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह सिकरवार और व्यापारियों के बीच भारी विवाद हो गया| विवाद तब बढ़ा जब थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ दुकानें बंद कराने का प्रयास कर रहे थे। इस दौरान पुलिस और व्यापारियों के बीच आपस में मारपीट भी हो गई । व्यापारी वर्ग को गाली दिए जाने से आक्रोशित लोगों ने थाना प्रभारी को खदेड़ दिया| थाने के सामने सरपंच रामेंद्र छिरौल्या के साथ झूमा झटकी की| सरपंच का आरोप है कि सुरेंद्र सिंह सिकरवार से हम सभी लम्बे समय से परेशान है| वे मुझसे ईर्ष्या रखते हैं और क्षेत्र में कई चोरियों कि वारदात की शिकायतों पर कार्रवाई नहीं की गई, उनके पास चोरी के सबूत भी है लेकिन उन्होंने आरोपियों पर कार्रवाई नहीं की| आज हुए घटनाक्रम के बार में उन्होंने बताया कि टीआई ने उनके छोटे भाई सतेंद्र पर रिवाल्वर तान दी और गालियां दी| जिसके बाद जब लोग आक्रोशित होकर उन्हें खदेड़ने लगे तो वे थाने में छुप गए|

व्यवसाइयों का आरोप है कि थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह सिकरवार नशे में थे और उन्होंने बिना किसी कारण के पुलिस बल के साथ पहुंचकर दुकानदारों और अन्य व्यवसायियों को धमकाना शुरू कर दिया और गाली गलौज करने लगे। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है| वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने तत्काल थाना प्रभारी सिकरवार को निलंबित कर दिया है| लोगों की मांग पर सिकरवार का मेडिकल भी किया गया है|

थाना प्रभारी सुरेंद्रसिंह सिकरवार का विवादों से पुराना नाता रहा है। इससे पहले वह कोलारस क्षेत्र में पदस्थ थे| थाना प्रभारी की विवादित कार्यशैली के चलते विधायक वीरेंद्रसिंह रघुवंशी ने धरना दिया और कार्रवाई की मांग की थी।