शिवपुरी : बहुत जल्द प्रारंभ होगी टाइगर सफारी – सांसद डॉ केपी यादव

माधव राष्ट्रीय उद्यान में फिर गूंजेगी बाघो की दहाड़, केंद्र से मिली सहमति

शिवपुरी, मोनू प्रधान। पिछले एक दशक से भी लंबे समय में माधव नेशनल पार्क के लिए टाइगर कागजों में दहाड़ रहा था। तमाम पत्राचार, दावे और योजनाओं इसके लिए बनाई गई, लेकिन जमीन पर कुछ खास असर दिखाई नहीं दे रहा था। गुना-शिवपुरी-अशोकनगर क्षेत्र के सांसद डॉक्टर के पी यादव ने निर्वाचित होने के बाद से ही क्षेत्रवासियों की मांग व पर्यटन नगरी के रूप में सुविख्यात शिवपुरी में पर्यटन के क्षेत्र में विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से माधव राष्ट्रीय वन उद्यान के विकास के लिए राज्य से लेकर केंद्र सरकार तक तथा संसद भवन में भी लोकसभा सत्र के दौरान अपनी मांग रखी।

यह भी पढ़े…प्रेमी युगल ने खाया जहर, दोनो की मौत, हाल ही में प्रेमिका NEET में हुई थी सिलेक्ट

सांसद यादव ने माधव नेशनल पार्क में बाघों के पुनर्वास एवं रणथंबोर,कान्हा राष्ट्रीय वन उद्यान जैसे नेशनल पार्कों की तर्ज पर टाइगर सफारी की मांग रखी। तत्कालीन केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर,मध्य प्रदेश शासन की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर,केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद पटेल वर्तमान केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव जी से भेंट करके माधव राष्ट्रीय उद्यान में टाइगर सफारी व बाघों के पुनर्वास हेतु सतत प्रयास किए। सांसद डॉक्टर के पी यादव ने टाइगर प्रोजेक्ट प्रभारी एसपी यादव जी सहित अन्य अधिकारियों से समय-समय पर रुचि लेकर चर्चा की व पूरे मामले में गंभीरता लेते हुए अपनी उपस्थिति को बनाए रखा।

यह भी पढ़े…VIDEO: प्रभारी मंत्री ने सलमान खान को फोन लगाकर पूछा हाल, मिला ये जवाब

गौरतलब है कि शिवपुरी के माधव नेशनल पार्क में जल्द ही टाइगर की दहाड़ सुनने को मिलेगी। माधव राष्ट्रीय उद्यान में टाइगर सफारी को लेकर केंद्र सरकार की सहमति प्राप्त हो गई है। विगत दिनों दिल्ली में संपन्न हुई केंद्र स्तरीय बैठक में माधव नेशनल पार्क की ओर से दिए प्रस्तुतीकरण को देखने के बाद केंद्र ने माधव राष्ट्रीय वन उद्यान को टाइगर हेतु अनुकूल व उपयुक्त माना है,अब यहां से राष्ट्रीय वन उद्यान का स्टाफ प्रशिक्षण प्राप्त करने पन्ना जाएगा। टाइगर आने के साथ शहर के पर्यटन की दिशा में बड़ा बदलाव होगा। एक बार फिर पर्यटक शिवपुरी की ओर रुख करेंगे और यहां रोजगार बढ़ेगा।