विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले पूर्व नेता प्रतिपक्ष, “यह तो होना ही था”

सीधी| पंकज सिंह| उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसवालों को मारने वाले गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किये हैं| पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने विकास दुबे के एनकाउंटर मामले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि जिस प्रकार से देश का पूरा मीडिया और जनता यह अनुमान लगा रही थी उससे साफ लग रहा था कि यह होना ही था और वह हुआ भी ।

अजय सिंह ने जारी बयान में कहा कि सवाल इस बात का नही है कि विकास दुबे का एनकाउंटर क्यों हुआ, सवाल इस बात का है कि इस एनकाउंटर के बाद वो चेहरे कैसे बेनकाब होंगे जो विकास को संरक्षण देते थे । अजय सिंह ने कहा कि किसी भी राज्य सरकार के लिये इससे बड़ी शर्मनाक बात और क्या हो सकती है कि 8 पुलिस कर्मियों का नरसंहार करके कोई अपराधी अपने राज्य की सीमा को पार कर जाता है और दूसरे राज्य में बड़े ही आराम से टहलता हुआ पाया जाता है ।

कांग्रेस नेता अजय सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि विकास मप्र की सीमा में कैसे आया और उसने आपको बड़े ही नाटकीय ढंग से कैसे सुपुर्द कराया ये ऐसे सवाल हैं जो न केवल अनुत्तरित हैं बल्कि उनका जबाब हर व्यक्ति चाहता है । अजय सिंह ने साफ कहा कि विकास दुबे की तथाकथित गिरफ्तारी से लेकर उसके एनकाउंटर तक की सीबीआई जांच आवश्यक है जिससे इस पूरे मामले की सच्चाई सामने आ सके । अजय सिंह ने कहा कि विकास दुबे को संरक्षण देने वाले किसी भी व्यक्ति को नही बख्शा जाना चाहिए चाहे वह किसी भी दल से सम्बंधित क्यों न हो ।