सीधी में आयोजित हुआ चिकित्सीय कैम्प, कुपोषण से निपटने हरसंभव प्रयास

सीधी, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश सरकार के कुपोषण को जड़ से मिटाने के प्रयास के तहत सीधी में महिला एवं बाल विकास कार्यालय और कलेक्टर के आदेशानुसार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशन में बाल आरोग्य संवर्धन कार्यक्रम आयोजित किया गया, इस कार्यक्रम के अंतर्गत कुपोषित बच्चों के एकीकृत पोषण प्रबंधन हेतु चिकित्सीय परीक्षण दवाईया वितरित की गई,परीक्षण  चिकित्सा अधिकारी रामपुर नैकिन डॉ प्रशांत कुमार तिवारी एवं डॉ सज्जन सिंह द्वारा व्यापक एवं व्यवस्थित ढंग से किया गया।

बेटे को भेजा होता मदरसे, तो आज यह दिन न देखना पड़ता, देखिए किसने दी किंग खान को नसीहत

इस कार्यक्रम का उद्देश्य जिले के अंदर चिन्हांकित सैम (SAM)अति गंभीर कुपोषित बच्चों को विस्तृत सुविधाएं देते हुए उन्हें कुपोषण की श्रेणी से बाहर लाया जाना है। डॉ. प्रशांत तिवारी नें इस कैम्प को कुपोषण के खिलाफ चल रही जंग के लिए एक वरदान स्वरूप बताया साथ ही उन्होंने बताया कि कैम्प का आयोजन सी.एच.सी. रामपुर नैकिन, चुरहट एवं पी.एस.सी. बघवार, हनुमानगढ़, धनहा, खड्डी, बड़खरा, डढ़िया एवं पोस्ता में निर्धारित दिनांक पर सफलता पूर्वक सम्पन्न कराया गया। गौरतलब है की प्रदेश में अति कुपोषण से पीड़ित बच्चों की संख्या को देखते हुए सरकार ने कई ऐसे कैम्प आयोजित कर न सिर्फ ऐसे बच्चों को चिन्हित करने के निर्देश दिए है साथ ही गर्भवती माताओं के स्वास्थ्य की पूरी तरह देखभाल करने की योजना बनाई है।  ताकि कुपोषण से निपटा जा सके।