गैंगरेप का शिकार हुई नाबालिग, कांग्रेस नेता के दखल के बाद पुलिस ने दर्ज की FIR

सीधी।

 जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार नाबालिग लड़की पिछले 2 दिन से रिपोर्ट लिखाने भटक रही थी लेकिन सीधी पुलिस पीड़िता रिपोर्ट नहीं दर्ज कर रही थी। अब वही एक कांग्रेस पार्टी के पदाधीकारी व अधिवक्ता के दखल के बाद पुलिस मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 घटनाक्रम कुछ इस तरह का है कि सेमरिया इलाके की एक 14 साल की नाबालिग लड़की को रात में दो बदमाश उठा कर ले जाते है और रात भर उस नाबालिग के साथ गैंग रेप कर फरार हो जाते है,सुबह जब लड़की अपने घर पहुँचती है तब सारी बाते, अपने परिजनों को सुनाती है, परिजन तत्काल नाबालिग को साथ लेकर सेमरिया पुलिस चौकी पहुँच जाते है,लेकिन उन्हें दो दिन तक चौकी में बैठा कर रखने के बाद भी रिपोर्ट नहीं लिखी गयी, बल्कि पीड़िता को उल्टा पुलिस द्वारा धमकाया गया।

 मजबूरन पीड़ित परिजन आज एक कांग्रेस पार्टी पदाधीकारी व जिला न्यायालय के अधिवक्ता रोहित मिश्रा को लेकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुँचे जहाँ सेमरिया चौकी प्रभारी पहले से मौजूद थे। रोहित मिश्रा ने पीड़िता की बात को मजबूती से ASP के सामने रखा जिसके बाद पुलिस ने मामले की कर्यवाही शुरू कर दी है।

अधिवक्ता ने आरोप लगया है कि पुलिस मामला दर्ज नहीं कर रही थी बल्कि लीपा पोती करने में जुटी थी जिसको लेकर उनकी सेमरिया चौकी प्रभारी से बहस भी हो गई थी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक का कहना है कि लड़की की शिकायत के मुताबिक इस प्रकरण में दो आरोपी हैं. चुरहट में संबंधित एफआईआर दर्ज कर मेडिकल और प्रकिया के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here