सिंगरौली में चेक पोस्ट बने अवैध वसूली के अड्डा, वाहनों से वसूली जा रही मोटी रकम, जिम्मेदार मौन

जिम्मेदार अधिकारी संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाए उन पर मेहरबानी दिखा रहे हैं। 

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। वाहनों (vehicles) की चेकिंग के लिए सिंगरौली (Singrauli) में परिवहन विभाग (transport Department) द्वारा जिले के प्रमुख हाइवे पर आरटीओ चेक पोस्ट (RTO Check Post) संचालित किए जा रहे हैं। इन चेक पोस्टों पर वाहन चेकिंग के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है। कई वाहन चालक तो विभाग के आला अधिकारियों से मामले की शिकायत भी कई बार कर चुके हैं, लेकिन जिम्मेदार अधिकारी संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाए उन पर मेहरबानी दिखा रहे हैं।

यह भी पढ़ें…शर्लिन चोपड़ा का शिल्पा शेट्टी और राज कुंद्रा पर गंभीर आरोप, कहा- “अंडरवर्ल्ड की धमकी दी”

बता दें कि इन चेक पोस्टों को शुरु करने का मकसद अवैध परिवहन रोकना, वाहनों से टैक्स वसूलना, अनफिट और प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों को सड़क पर चलने से रोकना और वाहनों की चेकिंग करना है, लेकिन देखा जा रहा है कि इन चेक पोस्टों पर यह सब कार्य करने की बजाए वाहनों से महज वसूली की जा रही है। खास बात यह है कि जिन वाहन चालकों के पास सभी दस्तावेज होते हैं और वह नियम-कायदों के तहत अपने वाहनों को चला रहे हैं। उनसे भी यह चेक पोस्ट पर लगे निजी कर्मचारी जमकर अवैध वसूली करते हैं। कई बार किराए के लोग वाहन चालकों के साथ मारपीट करने लगते है। लेकिन विभाग के आला अफसरों के दबाव में संबंधितों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

बजाए निजी लोग करते हैं अवैध वसूली
चेक पोस्टों पर परिवहन विभाग के कर्मचारियों के द्वारा वाहनों की चेकिंग करने का काम नहीं किया जाता है बल्कि वहां लगा रखे निजी लोग यह काम करते हैं। प्राइवेट लोग वाहनों से अवैध वसूली और वाहन चालकों के साथ मारपीट करने का काम कर रहे हैं। सूत्रों से पता चला कि करौटी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली जोरो पर है। वहीं कुछ LPG गैस रायपुर से लेकर सिंगरौली आने वाले गाड़ियों से करौटी चेकपोस्ट पर अवैध वसूली का मामला सामने आया है। आपको बता दे कि सिंगरौली जिले में LPG गैस की किल्लत हाल ही में मोरवा में देखने को मिली थी, जिसका सबसे बड़ा कारण यह है कि चेक पोस्टो पर प्राइवेट गुर्गों के द्वारा इन गाड़ियों से 4 हजार से लेकर 6 हजार रुपये तक कि डिमांड की जाती है।

वहीं LPG वाले बताते है कि चेकपोस्ट पर रहने वाले गुर्गे उन्हें सड़क पर दौड़ाकर पीछा करते हैं जबरजस्ती पैसे मांगते है और हद तो तब हो गई जब कुछ लोगो ने कहा कि अगर ड्राइवर के पास पैसा नही रहता तो उनका मोबाईल छीनकर रख लेते हैं, जिसके कारण कोई भी गाड़ी सिंगरौली जिले में LPG गैस लेकर आने को जल्दी तैयार नही होता।

यह भी पढ़ें…बैतूल जिला चिकित्सालय में इलाज के एवज में डॉक्टर ले रहे थे पैसे, CMHO ने की पुष्टि, जांच शुरू