CM ने सिंगरौली से संत शिरोमणि समरसता यात्रा का किया शुभारंभ, 6 जिलों से होकर 12 अगस्त को पहुंचेगी सागर

Sanjucta Pandit
Published on -

MP Samarsata Yatra : अनुसूचित जाति वर्ग को साधने के उद्देश्य से बीजेपी द्वारा संत शिरोमणि रविदास का 100 करोड़ की लागत से मंदिर निर्माण कराया जा रहा है। इससे पहले बीजेपी प्रदेश मे संत शिरोमणि रविदास समरसता रथ यात्रा निकाल रही है। जिसकी शुरुआत आज सिंगरौली से हुई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रथ यात्रा का शुभारंभ किया। बता दें कि कार्यक्रम का आयोजन रामलीला मैदान में किया गया था। इससे पहले अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जाटव, सांसद रीति पाठक व सिंगरौली विधायक ने अपने संबोधन से सीएम का स्वागत किया।

CM ने सिंगरौली से संत शिरोमणि समरसता यात्रा का किया शुभारंभ, 6 जिलों से होकर 12 अगस्त को पहुंचेगी सागर

12 अगस्त को सागर पहुंचेगी यात्रा

इस दौरान सीएम शिवराज ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि संत श्री रविदास जी चरम शिल्पी थे लेकिन जो भी कमाते थे वह दीन-दुखियों की मदद के लिए खर्च कर देते थे क्योंकि संत रविदास जी का जन्म ही परोपकार के लिए हुआ था। संत रविदास अद्भुत संत थे, जिन्होंने मानवता के कल्याण का मार्ग प्रशस्त करने के साथ भारतीय संस्कृति व मूल्यों को आगे बढ़ाने का कार्य किया। आगे सीएम ने कहा कि सागर में 102 करोड़ की लागत संत शिरोमणि रविदास जी का भव्य मंदिर बनेगा। मंदिर निर्माण के लिए समरसता यात्रा निकाली जा रही है जो कि 53 हजार गांवों में पहुंचेगी। प्रेम, सद्भाव व एकता का संदेश देने के साथ प्रत्येक गांव की मिट्टी व प्रदेश के 315 नदियों का जल संग्रह कर 12 अगस्त को यात्रा सागर पहुंचेगी, जहां देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर का शिलान्यास करेंगे।

कल्याणकारी योजनाओं का किया जिक्र

शिवराज सिंह चौहान ने आगे कहा कि कांग्रेस की सरकार में मध्य प्रदेश में अनुसूचित समाज के लिए महज 266 करोड़ का बजट था, जिसे बीजेपी सरकार ने बढ़ाकर 26,000 करोड़ किया है। राज्य सरकार ने अनुसूचित समाज के उत्थान के लिए संत शिरोमणि स्वरोजगार योजना, डॉ. भीम राव अम्बेडकर आर्थिक कल्याण योजना, सावित्री बाई फुले स्व सहायता योजना, सीएम अनुसूचित पोषक योजना सहित कई योजनाएं चलाई हैं। इस दौरान उन्होंने राज्य में चल रही तमाम जन कल्याणकारी योजनाओं का भी जिक्र किया।

करोड़ों के निर्माण कार्यों का शिलान्यास

जिला मुख्यालय वैढन से संत शिरोमणि समरसता यात्रा का शुभारम्भ करने के बाद देवसर विधानसभा क्षेत्र के सरई में आयोजित कार्यक्रम में सीएम ने सरकार की उपलब्धियों को गिनाया। इस दौरान लाडली बहना योजना पर सबसे अधिक उद्बोधन दिया। इस योजना को बहनों का मान-सम्मान बताया। मंच से लगभग 1500 करोड़ रुपये के निर्माण कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया।

देवसर विधानसभा क्षेत्र मे 693 करोड़ 34 लाख के निर्माण कार्यों का शिलान्यास, 672 करोड़ 25 लाख रुपये की लागत के रिहंद माइक्रो सिंचाई परियोजना का शिलान्यास,9 करोड़ 90 लाख से निर्मित कालेज सभागार, उत्कृष्ट स्कूल के खेल मैदान का लोकार्पण, 5 करोड़ 93 लाख की लागत से पॉलिटेक्निक कालेज प्रयोगशाला भवन का लोकार्पण व सीएम मध्य प्रदेश ग्रामीण सड़क विकास परियोजना द्वारा 5 करोड़ 36 लाख से निर्मित अमहरा करामी सड़क का लोकार्पण किए।

समरसता के प्रतीक थे संत शिरोमणि रविदास

बता दें कि संत शिरोमणि के सिखाए हुए रास्ते पर चलकर मध्य प्रदेश सरकार गरीब कल्याण, सामाजिक सद्भाव व समरसता का कार्य कर रही है। सबका साथ सबका विकास की थीम पर राज्य सहित केंद्र की बीजेपी सरकार कार्य कर रही है। संत शिरोमणि रविदास जी भारतीय संत परंपरा के परम संत थे। संत शिरोमणि ने जहाँ जाति-पाती, छूआछूत व कुप्रथाओं का विरोध किया था तो वहीं सामाजिक सद्भाव, समरसता व समानता के प्रतीक भी थे।

सिंगरौली से राघवेन्द्र सिंह गहरवार की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News