अवैध रेत खनन पर कलेक्टर की बड़ी कार्रवाई, 200 हाइवा समेत 8 पोकलेन जब्त

collector-action-against-illegal-sand-miners

सिंगरौली। राघवेन्द्र सिंह।

सिंगरौली कलेक्टर अनुराग चौधरी के निर्देश व पुलिस अधीक्षक अधीक्षक रियाज इकबाल के कुशल मार्गदर्शन में जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति(खनिज राजस्व एवं पुलिस) की टीम द्वारा कोतवाली क्षेत्र के हिर्रवाह में बीती रात निर्धारित लीज सीमा क्षेत्र से बाहर अवैध रूप से रेत की निकासी व परिवहन कार्य मे लगे डीएस कंपनी के 8 पोकलेन व 30 हाइवा को जप्त किया गया है। जिले में लंबे समय से रेत निकासी व परिवहन कार्य मे लगी डीएस कंपनी के खिलाफ वर्तमान कलेक्टर (तब के नवागत कलेक्टर) श्री चौधरी ने तत्कालीन एसपी रुडोल्फ अल्वारेस के साथ संयुक्त कार्यवाही कर कंपनी 50, 100 नही बल्कि 200 ट्रक व हाइवा को जप्त किया था। 2017 की अवैध रेत उत्खनन के खिलाफ पूरे मध्य प्रदेश की वहसबसे  बड़ी कार्यवाही थी। 

   गौरतलब हो कि कलेक्टर श्री चौधरी ने गत दिवस समीक्षा बैठक के दौरान पुलिस व खनिज अधिकारियों को निर्देश दिया था कि अवैध उत्खनन व परिवहन पर रोक लगाने साप्ताहिक पखवाड़ा अभियान चलाया जाय। कलेक्टर के निर्देश के परिपालन में एस पी श्री इकबाल के कुशल मार्गदर्शन में नगर पुलिस अधीक्षक अनिल सोनकर व कोतवाली टी आई मनीष त्रिपाठी एवं खनिज अधिकारी पीपी राय की संयुक्त टीम ने ग्राम हिर्रवाह में सीमा क्षेत्र के बाहर रेत उत्खनन कर रही डीएस कंपनी के ठिकाने पर छापामार कार्यवाही कर 8 पोकलेन व 30 हाइवा को जप्त किया है। जप्त वाहनों को सासन चौकी में खड़ा कराया गया है। जप्त वाहनों के खिलाफ मध्यप्रदेश गौंड़ खनिज अधिनियम 53 के तहत कार्यवाही की गई है।

2017 में 23-24 की दरम्यानी रात हुई थी एम पी की सबसे बड़ी कार्यवाही

ज्ञात हो कि 2017 में सिंगरौली कलेक्टर श्री चौधरी ने तत्कालीन एसपी रुडोल्फ अल्वारेस के साथ डीएस कंपनी के खिलाफ मध्यप्रदेश गौंड़ खनिज अधिनियम की कार्यवाही की गई थी। कंपनी द्वारा प्रतिबंधित क्षेत्र में रेत उत्खनन व परिवहन करते ग्राम हिर्रवाह में ही जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन ने  संयुक्त कार्यवाही कर 200 ट्रक व 2 पोकलेन को जप्त किया था। रसूखदार डीएस कंपनी के खिलाफ प्रदेश की हुई सबसे बड़ी  कार्यवाही से पूरे प्रदेश में हड़कंप मच गया था। 

डीएस के खिलाफ दूसरी बड़ी कार्यवाही

रेत उत्खनन व परिवहन कार्य मे लगी रसूकदार डीएस कंपनी के खिलाफ सिंगरौली कलेक्टर श्री चौधरी व कोतवाली टी आई मनीष त्रिपाठी की यह दूसरी बड़ी कार्यवाही है। बरहाल डीएस कंपनी के खिलाफ हुई कार्यवाही से छोटे मोटे रेत माफियाओं के बीच हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गयी है।